Corona पर हो रही थी बात, पाकिस्तान ने अलापा कश्मीर राग

Advertisements

नई दिल्ली। SAARC Video Conferencing: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए सार्क देशों की वीडियो कांफ्रेंसिंग में पाक ने नापाक हरकत की है। पाकिस्तान के प्रतिनिधि ने इस मौके पर जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी में लगाई गई पाबंदियों का मुद्दा बैठक में उठाया।

इससे पहले वीडियो कांफ्रेंसिंग में पीएम मोदी ने कई देशों को इस मामले में एक साथ आने को कहा है। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना विकासशील देशों के लिए बड़ी चुनौती है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने इससे निपटने के लिए बड़ी पहल की है। उन्होंने सार्क देशों के लिए इमर्जेंसी फंड बनाने के लिए भारत की तरफ से 10 मिलियन डॉलर (एक करोड़ डॉलर) देने की घोषणा की है।

ANI

@ANI

Zafar Mirza, State Minister of Health of Pakistan: It is a matter of concern that has been reported from Jammu & Kashmir and in view of health emergency, it is imperative that all lockdown in the territory must be lifted immediately.

Twitter पर छबि देखेंTwitter पर छबि देखें

ANI

@ANI

PM Narendra Modi at video conference of SAARC member countries,over : Let us ask our officials to maintain close contact & identify nodal experts from each of our countries & they can have similar video conference one week from now to follow up on our discussions today.

Twitter पर छबि देखें

वीडियों कांफ्रेंसिंग में भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग ने कहा कि मैं पीएम मोदी को सबको साथ लाने के लिए धन्यवाद कहता हूं। इस बीमारी से मुकाबले के लिए सबका साथ आना बहुत जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पहला मामला सामने आने के बाद उसके इलाज और उसके संपर्क में आने वाले 48 लोगों की पहचान के लिए हमने काफी मेहनत की है।

पाकिस्तान के प्रतिनिधि जफर मिर्चा ने कहा कि जिस तरह कोरोना से 138 देश प्रभावित हुए हैं, इसलिए कोई भी देश इसके बचने के लिए कदम उठाए बिना नहीं रह सकता है। इसके साथ ही पाक प्रतिनिधि ने कहा कि पाकिस्तान कोरोना वायरस के फैलाव को सीमित करने में अब तक सफल रहा है। WHO ने भी इसकी तारीफ की है।

नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली ने पीएम मोदी के इस चर्चा के आयोजन के लिए धन्यवाद दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नेपाल में कई एजेसिंयों की को-ऑर्डिनेशन कमिटी बनाई गई है और विदेशियों और नॉन रेसिडेंट नेपाली लोगों के आवागमन पर रोक लगा दी है।

बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने कहा कि हमने सभी जिलों के अस्पतालों में कोविड-19 (कोरोना वायरस) के मरीजों के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। हमारे पास काफी टेस्टिंग किट, इन्फ्रारेड थर्मामीटर आदि उपलब्ध हैं। पीएम शेख हसीना ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देने के साथ वुहान से बांग्लादेश के 23 छात्रों को निकालने के लिए आभार जताया।

श्री लंका राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने कहा कि वतन वापस आने वालों लोगों को 14 दिनों की निगरानी में रखा जा रहा है। हमने यूनिवर्सिटीज और शिक्षण संस्थानों को फिलहाल बंद कर दिया है। राष्ट्रपति गोटबाया ने पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि हमारी बड़ी चुनौती इस वायरस को श्रीलंका में फैलने से रोकना है।

मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलीह ने कोरोना वायरस की चुनौती से निपटने के लिए क्षेत्रीय पहल के लिए पीएम मोदी का शुक्रिया किया है। उन्होंने कहा कि कोई भी देश अकेले स्थिति से नहीं निपट सकता है। राष्ट्रपति इब्राहिम सोलीह ने बताया कि कोरोना वायरस का पहले केस सामने आने के बाद पर्यटन में काफी गिरावट आई है।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कोरोना वायरस का मुकाबला करने के लिए टेली मेडिसिन के सामान्य ढांचे का प्रस्ताव दिया है।

Advertisements

इसे भी पढ़ें-  Aryan Khan Drugs Case: ‘कसम खाता हूं, जेल से बाहर जाकर ड्रग्स को नहीं लगाऊंगा हाथ’, जानें आर्यन खान ने NCB से और क्या कहा