स्कूल समय में ही रेमेडियल कक्षा के लिए 80 मिनट का पीरियड

Advertisements

जबलपुर। कमजोर विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए अब स्कूलों में रेमेडियल कक्षा के लिए 80 मिनट का पीरियड रहेगा। कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए नियमित यह पीरियड लगाए जाने की व्यवस्था की जाएगी। स्कूल समय में ही रेमेडियल कक्षा का पीरियड लगाया जाएगा। ताकि विद्यार्थियों को अलग से स्कूल में आने-जाने की परेशानी न हो।

9वीं से 12वीं तक डी और ई ग्रेड के विद्यार्थियों के लिए व्यवस्था

अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं समाप्त होने के बाद यह व्यवस्था अगले महीने से लागू की जाएगी। सभी हाई स्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों के प्राचार्यों को निर्देश भी दिए हैं। इसके पहले स्कूल समय के अतिरिक्त रेमेडियल कक्षाएं संचालित की जाती थी लेकिन अब व्यवस्थाओं में बदलाव करते हुए स्कूल समय में ही 80 मिनट का पीरियड रेमेडियल कक्षाओं के लिए रहेगा। जिसमें 9वीं से 12वीं तक के डी और ई ग्रेड प्राप्त विद्यार्थियों को शिक्षक विशेष प्रशिक्षण देंगे। खेल अथवा पुस्तकालय के पीरियड और एक नियमित पीरियड में रेमेडियल कक्षा के लिए 80 मिनट का पीरियड रहेगा। त्रैमासिक परीक्षाओं में डी और ई ग्रेड प्राप्त विद्यार्थियों के लिए यह रेमेडियल की कक्षा रहेगी। इस बार त्रैमासिक परीक्षा में कक्षा 9वीं में 60 प्रतिशत और कक्षा 10वीं में 50 प्रतिशत विद्यार्थी डी एवं ई ग्रेड प्राप्त हैं। रेमेडियल कक्षाएं नियमित शिक्षकों द्वारा ली जाएंगी।

Advertisements