MP : विधानसभा सत्र स्थगित करने के फर्जी ट्वीट, गरमाई राजनीति FIR दर्ज

Advertisements

भोपाल। सियासी घटनाक्रम के बीच विधानसभा का बजट सत्र 16 मार्च (सोमवार) से शुरू होना है। इसे स्थगित किए जाने को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। इसी बीच सोशल मीडिया में दोपहर को एक ट्वीट वायरल हुआ, जिसमें कोरोना वायरस का हवाला देते हुए 26 मार्च तक सत्र स्थगित करने की बात कही गई। यह ट्वीट विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति के नाम से वायरल हुआ।

अध्‍यक्ष का ट्विटर अकाउंट ही नहीं

लिहाजा, हलचल मचना स्वभाविक थी। पूछताछ हुई तो पता लगा कि अध्यक्ष का कोई ट्विटर अकाउंट ही नहीं है। विधानसभा अध्यक्ष के नाम का दुरपयोग करने पर विधानसभा के संचालक सुरक्षा जेके शर्मा ने सायबर क्राइम थाना में शिकायत दर्ज कराई, जिस पर प्रकरण कायम किया गया।

इसे भी पढ़ें-  Theft Of Bicycle Belong To Preseident Of Vidhan Sabha: साइकिल यात्रा से पहले गायब हुई विधानसभा अध्यक्ष की साइकिल, ढूंढने में जुटी GRP

कहीं नहीं हुई पुष्‍टि

सूत्रों ने बताया कि विधानसभा सत्र को स्थगित करने को लेकर न तो संसदीय कार्य विभाग ने कोई प्रस्ताव आगे ब़़ढाया है और न ही विधानसभा सचिवालय ने कोई पत्राचार किया है। सोशल मीडिया में सुबह से ही कोरोना वायरस को लेकर सत्र को आगे ब़़ढाने की अटकलें लगाई जाती रही हैं।

तेजी से फैली अफवाह

इसी बीच विधानसभा अध्यक्ष का ट्वीट सामने आया, जिसमें उन्होंने कोरोना वायरस की वजह से सत्र को 26 तारीख तक स्थगित करने की सूचना दी। यह ट्वीट फर्जी था क्योंकि उनका कोई ट्विटर अकाउंट ही नहीं है। इसकी पुष्टि अध्यक्ष कार्यालय ने भी की। इसके बाद विधानसभा सचिवालय ने इस मामले की रिपोर्ट सायबर क्राइम थाने में कराने का निर्णय लिया। सुरक्षा संचालक ने फर्जी वाट्सएप मैसेज चलाने के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करने का आवेदन दिया। इस पर एफआईआर दर्ज करते हुए मामला जांच में लिया गया है।बता दें कि मध्‍यप्रदेश का सियासी पारा इस वक्‍त काफी ज्‍यादा है। वहां कांग्रेस से पाला बदल कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थामने वाले ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया को लेकर जमकर राजनीति हो रही है। ऐसे समय में यह जहां लोग सरकार के गिरने और बचने की बातें कर रहे हैं वहीं यह खबर काफी चौंकाने वाली थी।

Advertisements