पूरी अपडेट:इस्तीफा देने वाले विधायक आज पहुंचेंगे भोपाल, जयपुर में रुके कांग्रेस विधायक पहुंचे खाटू श्याम जी के दर्शन करने

Advertisements

राज्यपाल से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री कमलनाथ

मुख्यमत्री कमलनाथ राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने राजभवन पहुंचे। गौरतलब है कि राज्यपाल कल देर रात लखनऊ से लौटें हैं। मुख्यमंत्री राज्यपाल से मिलकर प्रदेश के सियासी संकट पर चर्चा करेंगे और सरकार की वर्तमान स्थिति के बारे में राज्यपाल को अवगत कराएंगे।

इस बीच खबर है कि सिंधिया गुट के 22 विधायक भोपाल पहुंच रहे हैं।

10:05 AM

जयपुर में स्थित मध्यप्रदेश कांग्रेस के विधायकों को आज खाटू श्याम मंदिर दर्शन के लिए ले जाया जा रहा है। सभी विधायक बस से कड़ी सुरक्षा के बीच आज सुबह मंदिर दर्शन के लिए रवाना हुए हैं।

09:54 AM

स्पीकर ने 22 बागी विधायक को नोटिस देकर मिलने बुलाया

मप्र विधानसभा के अध्‍यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने कांग्रेस के 22 बागी विधायकों को नोटिस भेजकर आज मिलने बुलाया है। इन विधायकों से यह स्पष्ट करने को कहा गया है कि उन्होंने अपनी इच्छा से इस्तीफा दिया है या किसी के दबाव में आकर ऐसा किया है।

इसे भी पढ़ें-  Bride Slapped Groom : विदा होकर ससुराल पहुंची दुल्हन ने गाड़ी से उतरते ही दूल्हे को जड़ा थप्पड़, फिर...
09:23 AM

आज राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात करेंगे मुख्यमंत्री कमलनाथ। वहीं बेंगलुरू में भी सिंधिया समर्थकों से इकट्ठा होने की सूचना मिल रही है, जहां करीब 19 विधायक ठहरे हुए हैं। कांग्रेस के आरोप है कि बेंगलुरू में विधायकों को बंदी बनाकर रखा गया है।

07:56 AM

ऐसी है मप्र में विधानसभा सत्र की व्यवस्था
– राज्यपाल ही सरकार की सलाह पर सत्र आहूत (बुलाते) करते हैं।
– साल का पहला सत्र (कभी भी हो) अभिभाषण से शुरू होता है।
– इसके बाद बजट, शासकीय और अशासकीय कार्य होते हैं।
– आमतौर पर बजट सत्र में अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार नहीं किए जाते हैं, क्योंकि बजट मांगों पर मतदान के दौरान कई मौके होते हैं, जब विपक्ष मतदान की मांग कर सकता है।
– यदि बजट मांगों के पक्ष में कम वोट पड़ते हैं तब भी सरकार का गिरना तय हो जाता है।
– वर्ष 1967 में ऐसा हो चुका है, जब स्कूल शिक्षा विभाग की मांग पर प्रस्ताव अस्वीकार हो गया था और कांग्रेस की डीपी मिश्रा सरकार चली गई थी।

इसे भी पढ़ें-  CBSE Class 12 compartment 2021: परीक्षा रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे कंपार्टमेंट व प्राइवेट छात्र
07:55 AM

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन से इस्तीफा देने वाले विधायकों को बर्खास्त करने की सिफारिश की है, जिस पर राज्यपाल शुक्रवार को फैसला कर सकते हैं। प्रदेश के मौजूदा सियासी संकट के बीच विधानसभा अध्यक्ष हों या फिर कांग्रेस-भाजपा नेता, सभी कानून की किताबें खंगालने में जुटे हैं।

07:54 AM

अब कांग्रेस गेंद विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति के पाले में डाल प्रक्रियाओं की आड़ लेकर पैंतरेबाजी में जुट गई है। उधर, अध्यक्ष ने बेंगलुरु में डेरा डाले बैठे छह मंत्रियों को नोटिस भेजकर शुक्रवार को तलब किया है।

07:54 AM

सत्ता को लेकर मध्य प्रदेश में जारी घमासान अब संवैधानिक व्यवस्थाओं व प्रक्रियाओं की जद में पहुंच गया है। करीब 22 कांग्रेसी विधायकों के इस्तीफों के बाद कमलनाथ सरकार जहां गिरने की कगार पर है। इसीलिए भाजपा का पूरा जोर 16 मार्च से शुरू होने वाले विधानसभा के बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण से पहले सदन में शक्ति परीक्षण (फ्लोर टेस्ट) कराने पर है।

इसे भी पढ़ें-  7th Pay Commission: कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए खुशखबरी, केंद्र सरकार ने TA क्लेम पर किया बड़ा बदलाव
Advertisements