CoronaVirus कोरोना से भारत मे पहली मौत की पुष्टि, छत्तीसगढ़ में स्कूल बंद

कर्नाटक (Karnataka) में एक 76 साल के व्यक्ति, जिसे कोरोना वायरस CoronaVirus (COVID-19) का संदेह था। उसकी मृत्यु हो गई है। मरीज के टेस्ट में इसकी पुष्टि हुई है सरकार ने भी इसे स्वीकार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार स्वास्थ्य विभाग (Health department) ने बुधवार को यह जानकारी दी। विभाग के एक आधिकारिक नोट में मृतक की पहचान मोहम्मद हुसैन सिद्दीकी के तौर पर की गई है जिसकी मंगलवार को सरकारी अस्पताल में मौत हो गई। सिद्दीकी को सांस लेने में तकलीफ, सर्दी और खां, जैसे लक्षण दिखाई दे रहे थे।

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि उसके नमूने जांच के लिए बंगलुरु भेजे गए थे। रिपोर्ट की अभी प्रतीक्षा की जा रही थी । कर्नाटक के स्वास्थ्य विभाग (Health department) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एक बयान में कहा कि हम मीडिया से अनुरोध करते हैं कि जागरूकता पैदा करने के लिए सरकार की सहायता करें अफरा तफरी का माहौल न बनाएं।

 

इससे पहले कलबुर्गी (Kalaburagi) के कमिश्नर शरत बी ने कहा था  कि यह निर्धारित किया जाना बाकी है कि मौत कोरोना वायरस से हुई है या किसी अन्य वजह से।

 

सिद्दीकी का 3 दिन से अस्पताल में इलाज चल रहा था। इसके बाद उनके परिजन उन्हें हैदराबाद ले जाने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि उन्हें कोरोना वायरस के लक्ष्ण का इलाज किया गया था। बाद में उनके परिजन उन्हें हैदराबाद ले जाने का फैसला किया।

सिद्दीकी हैदराबाद से जब वापस आ रहे थे, रास्ते में एम्बुलेंस में उनकी मृत्यु हुई है। उनके नमूने और रक्त की जांच National Institute of Virology, Bangalore भेज दिया गया था।

छग में स्कूल बंद

वायरस के फैलते प्रकोप को देखते हुए छत्‍तीसगढ़ में ऐहतियातन सभी स्कूल 13 मार्च से 31 मार्च तक बंद करने के अादेश जारी कर दिए गए हैं।

इस संबंध में स्‍कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉक्‍टर आलोक शुक्‍ला ने परिपत्र जारी किया है। इसमें कहा गया है कि निजी एवम शासकीय स्‍कूल कोरोना वायरस से बचाव के लिए 31 मार्च तक बंद किये गए हैं जबकि10 वीं और12वीं की बोर्ड परीक्षाएं पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जारी रहेंगी।

वहीं छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस का भय दिखाई देने लगा है। इससे नवा रायपुर स्थित हिदायतउल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में 18 मार्च तक अवकाश घोषित कर दिया गया है। इसे बढ़ाया भी जा सकता है। दूसरी ओर संस्कृति विभाग ने आयोजनों के लिए पहले से बुक अपने मंच और ऑडिटोरियम की बुकिंग अगले आदेश तक रद्द कर दी है। उधर सुकमा में कोरोना संदिग्ध मिला है, उसे चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है।