SBI ग्राहकों के लिए काम की खबर, जिसे जानना है जरूरी

Advertisements
Advertisements

SBI के ग्राहकों के लिए काम की खबर है। (State Bank of India) स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने कल 11 मार्च को एक दिन में पांच बड़ी घोषणाएं कीं। आमतौर पर ऐसा नहीं होता है। SBI एसबीआई समय-समय पर अपने ग्राहकों SBI Customers को नई योजनाओं, नीतियों के बारे में जानकारी देता है लेकिन कल एक ही दिन में 5 बड़े फैसले लिए गए और लागू कर दिए गए। ये ऐसे फैसले हैं जिनका करोड़ों खाताधारकों पर सीधा असर पड़ेगा। कुछ घोषणाएं झटका देने वाली थीं तो कुछ राहत देने वालीं। SBI New Rules बैंक के इन नए नियमों में Interest Rate ब्‍याज दरों में कटौती से लेकर Account maintenance charge अकाउंट मेंटेनेंस चार्ज जैसी अहम सुविधाएं शामिल हैं। आइये एक नजर डालते हैं और जानते हैं कि इन घोषणाएं के बाद आपके जीवन में क्‍या बदलाव आ सकता है।

1.मिनिमम बैलेंस Minimum Balance की अनिवार्यता हटी : यह SBI एसबीआई का सबसे बड़ा और महत्‍वपूर्ण फैसला है। करोड़ों ग्राहकों के लिए यह सचमुच राहत भरी खबर है कि अब SBI एसबीआई ने सेविंग अकाउंट्स को मेंटेन करने के लिए Minimum Balance मिनिमम बैलेंस की अनिवार्यता खत्‍म कर दी है। इसका मतलब यह हुआ कि यदि आप हर महीने Minimum Balance न्‍यूनतम बैलेंस नहीं रख पाते हैं तो ना तो आपका खाता बंद होगा ना ही इस पर कोई पेनाल्‍टी लगेगी। अभी तक चले आ रहे नियम के अनुसार, मेट्रो इलाकों में SBI account holders एसबीआई खाताधारकों को 3 हजार रुपए, सेमी-अर्बन इलाकों के लिए 2 हजार रुपए, ग्रामीण क्षेत्र के खाताधारकों के लिए 1 हजार रुपए का न्‍यूनतम यानी मिनिमम मंथली बैलेंस या एवरेज मिनिमम बैलेंस AMB (Average minimum balance) रखना अनिवार्य था। खाते में इतनी राशि मेंटेन न कर पाने पर SBI एसबीआई अपने ग्राहकों SBI Customers से पेनाल्‍टी भी वसूलता था।

2. सेविंग अकाउंट Saving Account पर ब्‍याज दरों Interest Rate में कटौती : SBI ने सभी प्रकार के सेविंग यानी बचत खातों Saving Accounts पर मिलने वाले Interest Rate ब्‍याज की दरों को घटा दिया है। कटौती के बाद ये दरें तीन प्रतिशत वार्षिक कर दी गईं हैं। इस निर्णय के बाद SBI (State Bank of India) एसबीआई के 44 करोड़ 51 लाख ग्राहक प्रभावित होंगे। मौजूदा दौर में SBI (State Bank of India) एसबीआई एक लाख रुपए तक की जमा राशि पर 3.25 प्रतिशत ब्‍याज का भुगतान करता है। इसके अलावा 1 लाख रुपए से ज्‍यादा जमा की गई राशि पर 3 प्रतिशत की दर से ब्‍याज देता है।

3. SMS चार्जेस खत्‍म: SBI ने ग्राहकों को एक और सुविधा देते हुए SMS पर लगने वाला शुल्‍क भी माफ कर दिया है। इस फैसले से करोड़ों खाताधारकों को बेहद फायदा होगा। SBI के अनुसार ये सारे बदलाव SBI (State Bank of India) बैंक ने अपनी ग्राहक प्रथम यानी कस्‍टमर फर्स्‍ट की पॉलिसी को देखते हुए किए हैं।

4. ब्‍याज दरें Interest Rate घटीं: SBI एसबीआई ने अब MCLR एमसीएलआर आधारित लोन पर लगने वाले Interest Rate ब्‍याज की दर को घटाने का ऐलान किया है। इसके बाद अब ये Interest Rate ब्‍याज दरें 0.15 प्रतिशत तक कम हो जाएंगी। SBI एसबीआई के समस्‍त अवधि के लोन पर मिलने वाले Interest Rate ब्‍याज की दरों में कटौती का यह निर्णय गत 10 मार्च, 2020 से लागू होकर प्रभावी हो गया है। इस कटौती के बाद अब SBI (State Bank of India) एसबीआई का होम लोन SBI Home Loan एवं अन्‍य दूसरे लोन SBI Loan भी अपेक्षाकृत सस्‍ते हो गए हैं।

Advertisements