पाक का बड़ा षड्यंत्र, 40 रोहिंग्‍या मुसलमानों को दे रहा आतंकी प्रशिक्षण

Advertisements

नई दिल्ली। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ अब प्रतिबंधित संगठन जमात-उल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के सहयोग से बांग्लादेश में 40 रोहिंग्‍या मुसलमानों को आतंकी प्रशिक्षण दे रही है। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने गुरुवार को सेनाओं और अर्धसैन्य बलों को इस आशय की चेतावनी जारी की है।

कॉक्स बाजार में दिया जा रहा आतंकी प्रशिक्षण

 

एजेंसियों ने बताया, ‘पाकिस्तान पड़ोसी बांग्लादेश की सीमा से भारत के खिलाफ बड़ा षड्यंत्र रच रहा है। बांग्लादेशी आतंकी संगठन जेएमबी को आइएसआइ धन मुहैया करा रही है। इसके जरिये 40 रोहिंग्‍या मुसलमानों को बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में आतंकी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जेएमबी को धन सऊदी अरब और मलेशिया के जरिये मुहैया कराया जा रहा है।’ उसने बताया कि जेएमबी को पहली किस्त के रूप में एक करोड़ टका उपलब्ध कराए गए हैं। खुफिया एजेंसियों ने इसकी सूचना राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के साथ भी साझा की है।

भारतीय खुफिया एजेंसियों ने जारी की चेतावनी

हाल के दिनों में जम्मू-कश्मीर सीमा पर सेना के आक्रामक रवैये के कारण पाकिस्तान आतंकियों को भारत भेजने में विफल रहा है। इसके बाद पाकिस्तान रोहिंग्‍या मुसलमानों को बांग्लादेश में आतंकी प्रशिक्षण दिलवा रहा है। पिछले साल एनआइए प्रमुख वाईसी मोदी ने कहा था कि जेएमबी पूरे भारत में अपना जाल फैलाना चाह रहा है। 125 संदिग्धों की सूची विभिन्न राज्यों के साथ साझा की गई है। उन्होंने कहा था कि जेएमबी झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में रहने वाले बांग्लादेशी घुसपैठियों के बीच अपनी गतिविधियां बढ़ा रहा है।

इसे भी पढ़ें-  Flood In Rudki : रुड़की में बाढ़: बाणगंगा ने तोड़ा तटबंध, तेज बहाव में फंसे 57 लोगों को बचाया, 12 हजार बीघा कृषि भूमि जलमग्न

नागरिकों ने कहा, पाक सेना आतंकियों की मदद लेने से करे परहेज

पिछले दिनों अमेरिका में रह रहे पाकिस्‍तानी नागरिकों के एक समूह ने पाक सेना और आतंकवादी समूहों के कनेक्‍शन की पुरजोर भर्त्‍सना की। समूह ने कहा कि पाक सेना द्वारा आतंकवादी संगठनों से किसी तरह की मदद देना और लेना निंदनीय है। उन्‍होंने मांग की है पाकिस्‍तान सेना को इन आतंकवादी संगठनों की घरेलू या विदेशी मोर्चे पर उपयोग को समाप्त करना चाहिए। इसके साथ इस समूह ने पाक में लगातार लोकतांत्रित स्‍वतंत्रता के हनन पर भी चिंता जाहिर की है।

 

एजेंसियों ने बताया, ‘पाकिस्तान पड़ोसी बांग्लादेश की सीमा से भारत के खिलाफ बड़ा षड्यंत्र रच रहा है। बांग्लादेशी आतंकी संगठन जेएमबी को आइएसआइ धन मुहैया करा रही है। इसके जरिये 40 रोहिंग्‍या मुसलमानों को बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में आतंकी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जेएमबी को धन सऊदी अरब और मलेशिया के जरिये मुहैया कराया जा रहा है।’ उसने बताया कि जेएमबी को पहली किस्त के रूप में एक करोड़ टका उपलब्ध कराए गए हैं। खुफिया एजेंसियों ने इसकी सूचना राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के साथ भी साझा की है।

इसे भी पढ़ें-  महिला को 10 मिनट में दे दी कोरोना वैक्‍सीन की दो डोज, जानिए फिर क्‍या हुआ

भारतीय खुफिया एजेंसियों ने जारी की चेतावनी

हाल के दिनों में जम्मू-कश्मीर सीमा पर सेना के आक्रामक रवैये के कारण पाकिस्तान आतंकियों को भारत भेजने में विफल रहा है। इसके बाद पाकिस्तान रोहिंग्‍या मुसलमानों को बांग्लादेश में आतंकी प्रशिक्षण दिलवा रहा है। पिछले साल एनआइए प्रमुख वाईसी मोदी ने कहा था कि जेएमबी पूरे भारत में अपना जाल फैलाना चाह रहा है। 125 संदिग्धों की सूची विभिन्न राज्यों के साथ साझा की गई है। उन्होंने कहा था कि जेएमबी झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में रहने वाले बांग्लादेशी घुसपैठियों के बीच अपनी गतिविधियां बढ़ा रहा है।

नागरिकों ने कहा, पाक सेना आतंकियों की मदद लेने से करे परहेज

इसे भी पढ़ें-  काला कुत्ता भौंकता है... TMC MLA मदन मित्रा का गवर्नर पर विवादित बयान

पिछले दिनों अमेरिका में रह रहे पाकिस्‍तानी नागरिकों के एक समूह ने पाक सेना और आतंकवादी समूहों के कनेक्‍शन की पुरजोर भर्त्‍सना की। समूह ने कहा कि पाक सेना द्वारा आतंकवादी संगठनों से किसी तरह की मदद देना और लेना निंदनीय है। उन्‍होंने मांग की है पाकिस्‍तान सेना को इन आतंकवादी संगठनों की घरेलू या विदेशी मोर्चे पर उपयोग को समाप्त करना चाहिए। इसके साथ इस समूह ने पाक में लगातार लोकतांत्रित स्‍वतंत्रता के हनन पर भी चिंता जाहिर की है।

Advertisements