Katni: बसाड़ी रेत खदान में ट्रेक्टर-ट्राली के नीचे आकर किशोर की मौत, कांग्रेस नेता की बताई जा रही खदान!

Advertisements

दुर्घटना के बाद ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन व नारेबाजी

कटनी। बड़वारा थाना अंतर्गत ग्राम बसाड़ी स्थित रेत खदान में ट्रेक्टर-ट्राली की चपेट में आकर एक 16 वर्षीय किशोर की दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना के बाद आरोपी ट्रेक्टर चालक व उसके साथी किशोर के शव को जंगल में फेंकने ले जा रहे थे तभी ग्रामीणों ने देख लिया और गांव में जमकर हंगामा मच गया। भारी संख्या में ग्रामीण एकत्रित होकर पुलिस व प्रशासन के खिलाफ अवैध उत्खनन को लेकर नारेबाजी करने लगे। गांव में हंगामें की जानकारी लगते ही प्रशासन व पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और समझा बुझाकर मामला शांत कराया।

इस संबंध में सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बसाड़ी में सरपंच सिया बाई धुर्वे, उसका पुत्र लाल सिंह, पंचायत सचिव व्यंकटेश तिवारी व सहायक सचिव संतोष जायसवाल कांग्रेस के किसी नेता के साथ मिलकर रेत खदान संचालित कर रहे हैं। यहां महानदी में पोकलेन मशीन से उत्खनन कर ट्रेक्टर-ट्राली से रेत ढोई जा रही है। बताया जाता है कि कल मंगलवार की शाम 4 बजे के लगभग रेत खदान में रेत परिवहन में लगे गया प्रसाद पटेल के ट्रेक्टर-ट्राली क्रमांक एम.पी.21एए-1626 की चपेट में आकर गांव के ही 16 वर्षीय किशोर रूप सिंह पिता रामप्रसाद राठौर की मौत हो गई।

रूपसिंह कक्षा दसवीं का छात्र है तथा वह दुर्घटना के समय घर से खेत जा रहा था। किशोर रूप सिंह के पिता रामप्रताप ने आरोप लगाया है कि चालक गया प्रसाद पटेल हादसा करने के बाद शव को जंगल में फेंकने ले जा रहा था। ग्रामीणों की नजर पड़ गई और उन्होंने विरोध किया और व जानकारी दी। मौके पर पहुंचा तो देखा कार से बेटे के शव को उतारकर ऑटो में रख रहे थे। ट्रैक्टर चालक गया का भाई बुधई शव नहीं दे रहा था। घटना के बाद परिजनों और ग्रामीणों में आक्रोश भड़क उठा और उन्होने जमकर हंगामा मचाते हुए पुलिस व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। सूचना मिलने पर बड़वारा पुलिस सहित तहसीलदार क्षमा सराफ, डीएसपी बीएन बसावे, बरही टीआई राजेश दुबे सहित अन्य अधिकारी पहुंचे और मोर्चा संभाला। अधिकारियों ने समझा बुझाकर मामला शांत कराया। पुलिस ने शवपरीक्षण कराते हुए आरोपी ट्रेक्टर चालक के विरूद्ध मामला दर्ज कर लिया है।

Advertisements