अजब गजब : शादी के 4 साल बाद भी नहीं पत्नी नही मानती अपना पति

Advertisements

मंडला । कभी- कभी शादी कैसे मुसीबत बन जाती है, इसका नमूना प्रदेश के मंडला जिले में देखने को मिला। शादीशुदा जिंदगी को लेकर जिले के नैनपुर में गांव के एक पीड़ित पति ने पुलिस-परिवार परामर्श केंद्र में आवेदन देते हुए बताया कि शादी को चार साल हो गए, लेकिन उसकी पत्नी उसे करीब नहीं आने देती। दोनों में चार सालों में कभी भी पति-पत्नी जैसे संबंध ही नहीं बने। पीड़ित युवक का कहना है कि उसकी पत्नी उसे पति नहीं, बल्कि भाई मानती है और उसके साथ भाई जैसा ही व्यवहार भी करती है।

परिवार परामर्श केंद्र पहुंचे पीड़ित ने सुनाई व्यथा

युवक ने परामर्श केंद्र के सदस्यों और अधिकारियों को बताया कि उसकी शादी 2015 में हुई थी। हालांकि, उसकी पत्नी ने शादी के कुछ दिनों बाद ही बता दिया था कि उसने यह शादी अपने माता-पिता के दबाव में की है। इतना ही नहीं, उसका कहीं और प्रेम प्रसंग भी रहा है। युवक का कहना था कि शादी के चार सालों तक वह इसी आशा में जीता रहा कि एक न एक दिन उसकी पत्नी रिश्ता स्वीकार कर लेगी, लेकिन आज तक ऐसा नहीं हुआ। थक-हारकर उसने परिवार परामर्श केंद्र में आवेदन देकर पत्नी को समझाने के लिए गुहार लगाई। केंद्र के अधिकारियों ने दोनों पक्षों को अगली पेशी पर फिर बुलाया है।

पत्‍नी को एड्स होने पर मांगा तलाक, कोर्ट ने किया खारिज  

गुजरात के अहमदाबाद में पत्नी को एड्स होने के बाद पति ने पारिवारिक कोर्ट में मामला पेश कर तलाक की मांग की। कोर्ट ने तलाक की मांग खारिज करते हुए कहा कि केवल शारीरिक सबंध से ही एचआइवी एड्स नहीं हो सकता, बल्कि  इसके अन्य कई कारण भी हो सकते हैं। इस कारण ही तलाक की अनुमति असंभव है। पति यह साबित करने में भी असफल रहा कि उसकी पत्नी के अन्य पुरुषों के साथ नाजायज संबंध थे। पारिवारिक कोर्ट के फैसले के बाद पति ने इस मामले को हाईकोर्ट में चुनौती दी है।

 

Advertisements