नए साल में मौसम बदलेगा करवट,कोहरे से 29 ट्रेनें लेट, यहां इलाकों में बर्फबारी के आसार

नई दिल्‍ली। नए साल की शुरुआत के साथ मौसम भी करवट बदलने वाला है। मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश या बर्फबारी हो सकती है। इतना ही नहीं पंजाब के कुछ हिस्‍सों में हल्की बारिश की गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं। मौसम विज्ञानिकों की मानें तो इससे ठिठुराने वाली ठंड से तो फौरी निजात मिल सकती है लेकिन बाद में गलन के साथ ही सर्दी का सितम देखने को मिल सकता है। इसके साथ ही उत्‍तर भारत में कोहरे और शीतलहर का कहर जारी है। घने कोहरे की वजह से नार्दर्न रेलवे रीजन की 29 ट्रेनें देर से चल रही हैं।

पश्चिमी हवाएं सक्रिय होने से दो और तीन जनवरी को हिमाचल प्रदेश के कई जिलों में हल्की से मध्यम बर्फबारी होने की चेतावनी जारी की गई है। झारखंड में अगले चार दिनों तक बादल छाए रहेंगे। एक से चार जनवरी तक बारिश की संभावना है। दिल्ली के मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनों तक अधिकतम व न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने के आसार हैं। दिल्‍ली के सफदरजंग इलाके में न्‍यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजस्‍थान के गंगानगर इलाके में 2.0 तो पंजाब के पटियाला में 2.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

वहीं मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्‍काईमेट वेदर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उत्तर पूर्वी राजस्थान से गुजरात होते हुए अरब सागर तक एक ट्रफ भी बना हुआ है, जो लोगों की समस्‍याएं बढ़ा सकता है। इसकी वजह से मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों, विदर्भ, मराठवाड़ा, तेलंगाना, झारखंड, ओडिशा, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। इतना ही नहीं मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और विदर्भ के पूर्वी भागों में एक-दो स्थानों पर ओले भी पड़ सकते हैं।

स्‍काईमेट वेदर की मानें तो उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होगी। यही नहीं दिन के तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है। दिल्ली-एनसीआर के इलाकों में यदि बारिश नहीं हुई तो प्रदूषण में बढ़ोतरी देखी जा सकती है, जिससे वायु गुणवत्ता सूचकांक और ऊपर चला जाएगा। बता दें कि दिल्‍ली में मंगलवार को वायु की गुणवत्ता 401 दर्ज की गई थी जो गंभीर श्रेणी में आती है। एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया की मानें तो ओपीडी में मरीजों की संख्‍या 20 फीसद बढ़ी है जिनमें ज्यादातर सांस की बीमारियों से पीड़ित हैं।

फ‍िलहाल, पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में सर्दी का सितम जारी है। उत्‍तर प्रदेश में कड़ाके की सर्दी ने जानलेवा शक्ल अख्तियार ली है। बीते तीन दिनों में 62 लोगों की मौत ठंड लगने के कारण हुई है। उत्‍तर प्रदेश में मंगलवार को कानपुर सबसे सर्द इलाका रहा जहां न्‍यूनतम तापमान जीरो डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लखनऊ में कल पारा 0.7 डिग्री, बहराइच में 0.2 डिग्री, झांसी में 1.8 और बाराबंकी में 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।