मुजफ्फरपुरः रेप नहीं कर सका तो जिंदा जलाया था, अब पीड़िता ने अस्पताल में तोड़ा दम

Advertisements

पटना। इंसाफ की चाह लिए मुजफ्फरपुर के अहियापुर में जिंदा जलाई गई युवती जिंदगी की जंग हार गई। साेमवार की देर रात करीब 11:40 बजे पटना के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. पिछले 7 दिसंबर को मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाना क्षेत्र में रेप (Rape) में विफल युवक ने अपने एक साथी के साथ मिल कर युवती को जिंदा जला दिया था. पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए पिछले 10 दिसंबर को पटना (Patna) सिटी के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां सोमवार की देर रात उसकी मौत हो गई।

युवती लगभग 95 फीसदी जल चुकी थी ऐसे में उसकी स्थिति बेहद चिंताजनक बनी हुई थी। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने युवती और उसके परिजन से मुलाकात भी की थी। पीड़िता के पटना आने के बाद पुलिस ने उससे मुलाकात कर बयान दर्ज किया था। पीड़िता पुलिस को मरने से पहले यह बयान दे चुकी है कि आरोपी राजा राम राय और उसके साथी ने ही उसे जलाया है।

5 साल से परेशान कर रहा था आरोपी

परिजन की मानें तो आरोपी युवक राजा पिछले 5 वर्षों से लगातार उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहा था। परिजनों ने इस संबंध में स्थानीय अहियापुर थाने में कई बार न्याय की गुहार लगाई थी। परिजनों ने पूरे मामले में पुलिस को सीधे तौर पर दोषी करार देते हुए कहा कि अगर पुलिस इस मामले में त्वरित कार्रवाई करती तो इस घटना को रोका जा सकता था। इस घटना के बाद पुलिस आरोपी युवक राजा को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

अधूरे रह गए सपने
पीड़िता नर्सिंग की ट्रेनिंग लेकर लोगों की सेवा करना चाहती थी लेकिन उसके सपने अधूरे ही रह गए. सोमवार की रात उसकी मौत से टूटे परिजन बार बार उसके भविष्य की भावी योजनाओं की चर्चा कर रो रहे थे।

Advertisements