CAA के विरोध पर संबित पात्रा का सवाल- शनिवार को राहुल गांधी रीलॉन्च हुए और रविवार से हिंसा शुरू

Advertisements

नई दिल्‍ली। नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (BJP Spokesperson Sambit Patra) ने सोमवार को प्रेस कॉफ्रेंस करके विपक्षी दलों को हिंसा का जिम्‍मेदार ठहराया। संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष में मुस्लिम वोटों के लिए होड़ मची है। देश में हिंदू-मुस्लिमों को बांटने की कुछ राजनीतिक पार्टियां साजिश चल रही हैं। उन्‍होंने कहा कि छात्र पढ़े लिख हैं, कुछ राजनीतिक दल उन्‍हें मोहरा बनाकर अपनी सियायत चमका रहे हैं।
दिल्‍ली के बाद लखनऊ में भी प्रदर्शन शुरू

संबित पात्रा ने कहा कि हम कल से दिल्‍ली में हिंसा देख रहे हैं और आज लखनऊ में भी प्रदर्शन शुरू हो गया है. नागरिकता संशोधन कानून में किसी भी धर्म, जाति के नागरिक के साथ भेदभाव का प्रावधान नहीं है. किसी के अधिकारों का हनन नहीं है. कुछ सियासी दल पढ़े-लिखे छात्रों को बरगला विरोध प्रदर्शन करा रहे हैं.

विपक्ष का रवैया गैरजिम्मेदराना: पात्रा
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष का रवैया गैरजिम्मेदराना है और कांग्रेस, आप और टीएमसी का रवैया गलत है. ये सच्चाई है कि आज सारी विपक्षी पार्टी जोकि सीएए के खिलाफ मोर्चा खोले हुए है, उनके पास कोई तथ्‍य नहीं है. सभी विपक्षी पार्टी तुष्टिकरण की राजनीति करके मुस्लिम वोटों को लुभाने के लिए ऐसा कर रही हैं।

छात्रों के उकसाने के बाद भी हमने नियंत्रण रखा
दिल्ली पुलिस के पीआरओ रंधावा ने कहा कि रविवार दोपहर 2 बजे विरोध शुरू हुआ. इसमें स्थानीय लोग भी शामिल थे. हमारे स्टाफ ने बहुत देर तक छात्रों द्वारा उकसावे के बाद भी हमने खुद पर नियंत्रिण रखा. करीब 4.30 बजे कुछ प्रदर्शनकारी माता जी मंदिर मार्ग पर गए और आग लगा दी।

Advertisements