Katni : ट्रांसफार्मर में आग, पूरी रात बंद रही शांतिनगर की बिजली

Advertisements

कटनी। हेमू कालाणी वार्ड के अंतर्गत शांतिनगर में बीच सड़क पर लगे ट्रांसफार्मर में कल रात आग लग गई। आग लगने से काफी देर तक तेज धमाका होता रहा। इस दौरान क्षेत्र के लोग डरे, सहमे अपने घरों में ही रहे। जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस समय बारिश भी हो रही थी। यह तो गनीमत रही कि जिस वक्त ट्रांसफार्मर में आग लगी, उस समय वहां पर कोई नहीं था, अन्यथा कोई बड़ी दुर्घटना से इंकार नहीं किया जा सकता था।
ट्रांसफार्मर में आग लगने के बाद पूरे क्षेत्र की बिजली बंद हो गई। क्षेत्र के नागरिकों द्वारा विद्युत मंडल के पूछताछ केन्द्र के साथ ही अधिकारियों को इस घटना की सूचना दी गई लेकिन सुबह तक न तो सुधार कार्य शुरू हुआ और न ही क्षेत्र की बिजली आपूर्ति बहाल हुई। क्षेत्र के नागरिकों ने बताया कि हेमू कालाणी वार्ड के अंतर्गत शांतिनगर में लगे इस ट्रांसफार्मर को हटाने की मांग पिछले काफी समय से की जा रही थी लेकिन विद्युत मंडल के जिम्मेदार अधिकारियों ने इस ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया। शांतिनगर निवासी प्रतिष्ठित व्यवसायी बिहारी बालानी ने यश भारत को बताया कि विद्युत मंडल द्वारा जिस समय ट्रांसफार्मर लगाया गया था, उस समय यहां मकान नहीं बने थे।
खाली मैदान होने की वजह से विद्युत मंडल द्वारा इसे बीच रोड पर लगा दिया गया था लेकिन मकान बनने के बाद विद्युत मंडल के अधिकारियों से ट्रांसफार्मर को हटाए जाने की मांग को लेकर कईयों बार आवेदन दिया गया था, उसके बाद भी मंडल द्वारा ट्रांसफार्मर को हटाया नहीं गया। बिहारी बालानी ने बताया कि बीच सड़क पर लगे ट्रांसफार्मर की वजह से आवागमन बाधित होने के साथ ही हर समय दुर्घटना की आशंका बनी रहती थी। इसके बावजूद विद्युत मंडल के अधिकारियों ने ट्रांसफार्मर अन्यत्र स्थापित करने के लिए प्रयास नहीं किया।
सुबह तक शुरू नहीं हुआ सुधार कार्य
क्षेत्र के नागरिकों ने यश भारत को बताया कि रात करीब 10 बजे अचानक ट्रांसफार्मर में आग लग गई। आग लगते ही पूरे क्षेत्र की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। ट्रांसफार्मर में आग लगने के बाद तेज धमाका भी होता रहा। दहशत के बीच लोग अपने घरों में ही कैद रहे। मंडल को सूचना भी दी गई लेकिन बारिश का बहाना बनाकर कर्मचारी अपना पल्ला झाड़ते रहे। अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने सुुबह सुधार कार्य शुरू करने की बात कही लेकिन सुबह होने के बाद भी सुधार कार्य शुरू नहीं किया गया। क्षेत्र में पूरी रात अंधकार छाया रहा। खबर लिखे जाने तक क्षेत्र की बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पाई थी।

Advertisements