संसद के शीतकालीन सत्र का आज आखिरी दिन, विपक्ष कर सकता है जमकर हंगामा

Advertisements

नई दिल्ली, एजेंसी। संसद के शीतकालीन सत्र का आज आखिरी दिन है। ऐसा माना जा रहा है कि आज कई बड़े मुद्दो को लेकर हंगामा हो सकता है। विपक्षी दल आज दोनों सदनों में कई मुद्दों पर सरकार पर जमकर हमला कर सकती है। इस बार शीतकालीन सत्र में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर दोनों ही सदनों में काफी बहस हुई। हालांकि, बहस के बाद ये बिल पास हो गया और राष्ट्रपति की मंजूरी मिलने के साथ ही ये कानून में तब्दील हो गया है।

संविधान संशोधन बिल को भी मिली मंजूरी

गुरुवार को संविधान संशोधन (126 वां) बिल राज्यसभा में भी पास हो गया है। काफी चर्चा के बाद इस बिल को लेकर मतदान किया गया। जानकारी के लिए बता दें कि पहले ही इस बिल को लोकसभा से मंजूरी मिल गई थी। इस विधेयक में लोकसभा और राज्य विधानसभाओ में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति समुदायों के आरक्षण को दल साल बढ़ाने का प्रावधान है।

गौरतलब है कि फिलहाल आरक्षण 25 जनवरी 2020 को समाप्त हो रहा है। इस बिल के जरिए इसे 25 जनवरी 2030 तक बढ़ाने का प्रावधान है। इतना ही नहीं इस बिल के तहत संसद में एंग्लो इंडियन कोटे के तहत 2 सीटों को खत्म करने का भी बिल में प्रावधान है।

Advertisements