Katni : एटीएम को विस्फोट से उड़ाने वाले पुलिस की पकड़ से दूर

Advertisements

कटनी। बहोरीबंद थाना क्षेत्र की बाकल पुलिस चौकी के अंतर्गत बाकल बस्ती स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम को शनिवार व रविवार की दरम्यानीरात विस्फोट से उड़ाकर उसके अंदर की रकम लूटने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी तो दूर पुलिस अब तक उनका सुराग तक हासिल नहीं कर सकी है। यह बात और है कि पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने वारदात को गंभीरता से लिया है तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा व स्लीमनाबाद एसडीओपी के नेतृत्व में वारदात की गुत्थी सुलझाने पुलिस की तीन-तीन अलग टीमों का गठन किया है। जिसमें से एक टीम का नेतृत्व खुद बहोरीबंद थाना प्रभारी रेखा प्रजापति कर रही हैं। वहीं एफएसएल अधिकारी अविनाश सिसोदिया ने भी घटनास्थल का मौका मुआयना कर आरोपियों के संबंध में कुछ विशेष क्लू पुलिस को दिए हैं।
जिसके सहारे भी पुलिस जांच करते हुए आगें बढ़ रही है। इसके अलावा पुलिस की अलग-अलग टीमें आसपास के जिलों में भी आरोपियों के संबंध में सुराग जुटाने में लगी हुईं हैं। वहीं थाना क्षेत्र के भी कुछ संदिग्ध युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। गौरतलब है कि शनिवार व रविवार की दरम्यानीरात बाकल स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम को विस्फोट से उड़ाकर बदमाशन उसके अंदर रखी रकम लेकर चंपत हो गए थे।तीन कैमरे लगे थे एटीएम में
एक जानकारी में यह भी बताया जा रहा है कि बाकल में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के जिस एटीएम को विस्फोट से उड़ाकर रकम को लूटा गया है। उसमें कोई सुरक्षा गार्ड तो नहीं था लेकिन एटीएम की सुरक्षा के लिए तीन अलग-अलग कैमरे लगाए गए थे। जिसमें एक कैमरा एटीएम के बाहर तथा दो कैमरे एटीएम के अंदर लगे हुए थे। जिनकी फुटेज देखने के बाद संभवतः पुलिस को आरोपियों के संबंध में सुराग लगाते हुए गिरफ्तारी के प्रयासों में सफलता मिल सकती है।
भोपाल से कटनी पहुंचे बैंक अधिकारी
वहीं एक जानकारी में यह भी बताया जाता है कि एटीएम में सुरक्षा की द्रष्टि से लगाए गए सीसीटीवी कैमरों का पासवर्ड स्थानीय बैंक अधिकारियों के पास नहीं था। जिसके कारण पुलिस अब तक एटीएम के कैमरों की फुटेज नहीं देख पाई है। इन कैमरों की फुटेज पुलिस को उपलब्ध कराने आज भोपाल से इंजीनियरों की एक टीम पासवर्ड लेकर कटनी पहुंच चुकि है। संभवतः आज पुलिस को एटीएम के कैमरों की भी फुटेज मिल जाएगी। जिससे आरोपियों की पहचान व उनकी गिरफ्तारी में पुलिस को मदद मिलेगी।निजी फुटेज में दिखे संदिग्ध
उधर पुलिस ने मामले की गुत्थी सुलझाने एटीएम के आसपास से गुजरे मार्गों के किनारे स्थित मकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला है। बहोरीबंद थाना प्रभारी रेखा प्रजापति के मुताबिक ग्राम इमलिया के एक सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में दो अलग-अलग मोटर सायकल में सवार कुछ संदिग्ध युवक नजर आए हैं। जिनके संबंध में सुराग एकत्रित किए जा रहे हैं।
रीठी के पारधी भी संदेह के घेरे में
एटीएम को विस्फोट से उड़ाकर रकम लूटने वाली इस घटना को अंजाम देने को लेकर पुलिस रीठी थाना अंतर्गत ग्राम देवगांव, सुगमा व अन्य जगह रहने वाले पारधियों पर भी संदेह कर रही है। सूत्रों के मुताबिक पारधी गिरोह के सदस्य इस तरह की वारदात कर सकतें हैं। इसलिए पुलिस पारधी गिरोह के सदस्यों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

Advertisements