तेज हवाओं के साथ नजदीक आ रहा है चक्रवात, यहां 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

Advertisements

Weather Update : चक्रवात महा का असर अभी खत्‍म नहीं हुआ था कि अब चक्रवात बुलबुल का भी खतरा सामने आ गया है। यह अब ओडिशा के नजदीक आता जा रहा है। इसके चलते यहां सरकार हरकत में आ गई है। यहां 15 जिलों को अलर्ट पर रखा गया है। चक्रवात बुलबुल के अब अगले 24 घंटों के दौरान गंभीर साइक्लोनिक स्टॉर्म में तब्‍दील होने संभावना है। यह चक्रवात अगले 48 घंटों के दौरान उत्तर पश्चिम दिशा में चला जाएगा। राज्य सरकार ने ओडिशा के 15 जिलों को अलर्ट पर रखा है। इन जिलों में बालासोर, भद्रक, केंद्रपाड़ा, जगतसिंहपुर, गंजम, पुरी, गजपति, कालाहांडी, बौध, कंधमाल और मलकानगिरी जैसे राज्य के दक्षिण और उत्तरी तटीय जिले शामिल हैं। बुधवार को मौसम विभाग के अधिकारियों ने दो चक्रवातों के प्रभाव का अनुमान जताया था। गुजरात और महाराष्ट्र में चक्रवात महा के कारण बारिश होने की संभावना है, जबकि विकासशील चक्रवात बुलबुल संभवतः बंगाल और ओडिशा को प्रभावित करेगा।

एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने बताया है कि केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार द्वीप समूह अब साइक्लोन बुलबुल के प्रभाव से खतरे से बाहर है। तटीय ओडिशा और पश्चिम बंगाल में इसका प्रभाव दिखाई देगा। हम अहतियात के तौर पर इन दोनों राज्यों में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की टीमें तैनात कर रहे हैं।

मौसम विभाग का अनुमान

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने जताया है कि चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ बंगाल की पूर्व-मध्य खाड़ी पर, पारादीप, ओडिशा के दक्षिण-पूर्व में लगभग 680 किलोमीटर और सागर द्वीपों, पश्चिम बंगाल के 780 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व में स्थित है। यह अगले 24 घंटों के दौरान भयानक रूप धारण कर सकता है। तूफ़ान बुलबुल के ओड़ीशा के पारादीप से 700 किलोमीटर दूर और पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप से 800 किलोमीटर दूर है। भारत के इन दो राज्यों के अलावा बांग्लादेश भी बुलबुल के निशाने पर आ सकता है।

दिल्‍ली में बारिश की संभावना

प्रदूषण से जूझ रही राजधानी दिल्‍ली को बारिश के रूप में राहत मिलने की उम्‍मीद है। अनुमान है कि जल्द ही गुरुग्राम और पश्चिमी दिल्ली से बारिश शुरू होगी। स्‍कायमेट की फोरकास्‍ट के अनुसार, जनकपुरी, धौला कुआं, उत्तम नगर, जहांगीरपुरी, वजीराबाद, यमुना विहार, आईएसबीटी, कनॉट प्लेस, लोधी रोड, साकेत, महरौली, लक्ष्मीनगर, आनंद विहार, पटपड़गंज, मयूर विहार फेस 3 में बारिश हो सकती है। यदि बारिश होती है तो दिल्ली और NCR की हवाओं में घुला प्रदूषण साफ हो जाएगा और अगले कुछ दिनों तक दिल्ली-एनसीआर के लोगों को प्रदूषण से बड़ी राहत मिलेगी।

Advertisements