Katni: सराफा कारोबारी की लूट को मसाला कारोबारी की लूट से जोड़कर देख रही पुलिस

Advertisements

कटनी। बस स्टेण्ड में खड़ी बस से मथुरा के सराफा कारोबारी के कर्मचारी का 4 लाख रूपए कीमती 12 किलो वजनी चांदी के जेवरों से भरा बैग चोरी होने के मामले को पुलिस कुछ समय पूर्व कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा से पार हुए मसाला कारोबारी के साढ़े ग्यारह लाख रूपए वाले मामले से जोड़ कर देख रही है। बस स्टेण्ड व उसके आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के लिए जिस वाहन का उपयोग किया है। वहीं वाहन सराफा कारोबारी के साथ वारदात को अंजाम देने में उपयोग किया गया है। पुलिस को यह भी जानकारी लगी है कि मंगलवार की सुबह यह वारदात हुई है और सोमवार को मसाला कारोबारी की वारदात के आरोपी पेशी पर कटनी आए थे। इसलिए पुलिस को पूरा संदेह है कि सराफा कारोबारी के साथ वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी वहीं हैं जिन्होने कुछ समय पूर्व मसाला कारोबारी के साथ वारदात को अंजाम दिया था।

बहरहाल पुलिस की जांच की सुई अब इस ओर घूम गई है और पुलिस आरोपियों का सुराग लगाते हुए गिरफ्तारी के हरसंभव प्रयास कर रही है। पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा के निर्देशन व नगर पुलिस अधीक्षक एम.पी.प्रजापति के मार्गदर्शन में कुठला थाना प्रभारी विपिन सिंह, कोतवाली प्रभारी विजय विश्वकर्मा, माधवनगर थाना प्रभारी संजय दुबे व एनकेजे थाना प्रभारी अंकित मिश्रा अलग-अलग पुलिस टीम का नेतृत्व करते हुए वारदात से पर्दा उठाने का हरसंभव प्रयास कर रहे हैं। गौरतलब है मथुरा के सराफा कारोबारी विशाल जैन के कर्मचारी 62 वर्षीय अशोक पिता गोपीनाथ अग्रवाल कटनी सहित आसपास के जिलों में सराफा कारोबारियों को जेवर विक्रय करने का काम करते हैं।

अशोक 14 अक्टूबर को कटनी सराफा बाजार जेवर लेकर आए थे। इसके बाद वह मंगलवार की सुबह कटनी से रीवा जाने बस स्टेण्ड पहुंचे और यहां रीवा जाने खड़ी एक बस में अपना लगभग 4 लाख रूपए कीमती 12 किलो वजनी चांदी के जेवरों से भरा बैग एक सीट में रखकर नीचे चायपान करने उतर गए। इसी दौरान किसी अज्ञात बदमाश ने उनका चांदी के जेवरों से भरा बैग पार कर दिया। चायपान करके जब अशोक वापस बस में लौटा तो बैग गायब देखकर उसके होश उड़ गए। इसके बाद अशोक दिन भर शहर के सराफा कारोबारियों के साथ अपने बैग की खोजखबर लेता रहा लेकिन जब शाम तक बैग नहीं मिला तो वह सराफा कारोबारियों के साथ ही शिकायत लेकर कुठला थाना क्षेत्र की बस स्टेण्ड पुलिस चौकी पहुंचा। पहले तो विलंब से शिकायत लेकर पहुंचने पर पुलिस ने अशोक अग्रवाल पर ही संदेह किया लेकिन जब शहर भर के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले गए तो पुलिस को भी यकीन हुआ कि सही में खड़ी बस से बैग चोरी हुआ है।

विजयराघवगढ़ के सराफा कारोबारी की वारदात भी अनसुलझी उधर विजयराघवगढ़ के संकंटमोचन चौराहा स्थित श्रीबालाजी ज्वेलर्स नामक सराफा दुकान से लगभग एक लाख रूपए कीमती 15 जोड़े सोने के टाप्स दिनदहाड़े चोरी जाने की वारदात भी अब तक अनसुलझी है। दुकान सहित आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में आरोपी स्पष्ट नजर आने के बावजूद पुलिस उसकी गिरफ्तारी तो दूर अब तक उसका सुराग तक हासिल नहीं कर सकी है। गौरतलब है कि विजयराघवगढ़ के संकंटमोचन चौराहा स्थित विवेक कुमार पिता खेमराम स्वर्णकार की श्रीबालाजी ज्वेलर्स नामक सराफा दुकान से अज्ञात बदमाश ने जेवर खरीदने के बहाने दिनदहाड़े 15 नग सोने के टाप्स पार कर दिए थे। चोरी गए सोने के टाप्स की कीमत एक लाख रूपए के लगभग है। पुलिस ने सराफा कारोबारी विवेक कुमार की शिकायत पर अज्ञात युवक के विरूद्ध मामला दर्ज कर उसकी तलाश तो शुरू कि लेकिन पुलिस की तलाश सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखने के बाद आगें नहीं बढ़ पा रही है। जिसका परिणाम है कि सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में आरोपी स्पष्ट नजर आने के बावजूद पुलिस अब तक उसका सुराग नहीं लगा सकी है।

Advertisements