PM मोदी ने पहना तमिलनाडु का परंपरागत परिधान ‘वेष्टि’, वायरल हुई तस्वीरें

Advertisements

महाबलीपुरम। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक वार्ता के लिए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग शुक्रवार दोपहर चेन्नाई व वहां से शाम को महाबलीपुरम पहुंचे। दोनों जगह उनका गर्मजोशी से और रेड कारपेट स्वागत किया गया। चेन्नाई एयपोर्ट पर तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित व मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने अगवानी की तो महाबलीपुरम में खुद प्रधानमंत्री मोदी ने। इसके बाद मोदी ने जिनपिंग को तमाम ऐतिहासिक धरोहरों का भ्रमण कराया और उनके महत्व से अवगत कराया। 24 घंटे की यात्रा पर आए जिनपिंग व पीएम मोदी के बीच करीब छह घंटे अनौपचारिक वार्ता होगी। इसमें तमाम विषयों पर चर्चा होगी।

पीएम मोदी तमिलनाडु के परंपरागत परिधान ‘वेष्टि व अंगवस्त्र’ यानी लुंगी, सफेद कमीज व गमछा तो चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग सफेद शर्ट व पतलुन पहने थे। हालांकि सांस्कृतिक कार्यक्रम के वक्त जिनपिंग ने कोट पहन लिया। ऐतिहासिक धरोहरों की सैर के वक्त पीएम मोदी ने गाइड के रूप में जिनपिंग को उनका महत्व बताया। (नीचे देखें तस्वीरें)

मोदी ने ट्‌वीट किया ‘वेलकम टु इंडियाप्रेसिडेंट जिनपिंग’

जिनपिंग के एयर चाइना के बोइंग 747 से चेन्नाई एयरपोर्ट पहुंचने पर पीएम मोदी ने ट्‌वीट कर प्रसन्नाता जताई। उनके साथ 90 सदस्यीय चीनी प्रतिनिधि मंडल भी आया है। इसमें चीन के विदेश मंत्री वांग यी, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय समिति के पोलित ब्यूरो सदस्य दिंग शिजियांग व स्टेट काउंसिलर यांग जेईची शामिल हैं। चेन्नाई एयरपोर्ट पर उनके सम्मान में संक्षिप्त सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ।

पंचरथ स्थल से वार्ता की शुरुआत

एशिया व विश्व के दो शक्तिशाली देशों के नेताओं के बीच वुहान बैठक के बाद दूसरी अनौपचारिक वार्ता का सिलसिला महाबलीपुरम के पंचरथ स्थल से शुरू हुआ। यहां दोनों नेताओं ने चंद मिनट बातचीत की। इसके बाद वे सातवीं सदी में बनाए गए शोर मंदिर पहुंचे। समुद्र तट पर बना होने से यह शोर मंदिर कहलाता है, यहां कलाक्षेत्र समूह के कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किया। कलाक्षेत्र की स्थापना शास्त्रीय नृत्यांगना रुक्मणि देवी ने 1936 में की थी। यहां मोदी-जिनपिंग के अलावा एनएसए अजित डोभाल व विदेश मंत्री एस. जयशंकर भी मौजूद थे।

पीएम ने दिया रात्रिभोज

चीनी राष्ट्रपति व अन्य मेहमानों को बंगाल की खाड़ीके समुद्र तट से मुखातिब शोर टेंपल पर पीएम मोदी ने निजी रात्रिभोज दिया। इसमें दोनों पक्षों के आठ-आठ प्रतिनिधियों को भी शरीक किया गया। हालांकि उनकी टेबल जिनपिंग-मोदी की टेबल से दूर लगाई गई। उन्हें तमिल के साथ अन्य व्यंजन परोसे गए।

ANI

@ANI

Prime Minister Narendra Modi and Chinese President Xi Jinping visit group of temples at Mahabalipuram. The group of monuments at Mahabalipuram is prescribed by UNESCO as a world heritage site.

एम्बेडेड वीडियो

1,436 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

Advertisements