सिवनी जिले में गहरे गड्ढे में डूबने से भाई-बहन समेत 3 बच्चों की मौत

सिवनी। कान्हीवाड़ा थाना अंतर्गत भटेखारी-जावना गांव में सोमवार दोपहर सड़क किनारे खेत में खोदे गए गहरे गड्ढे में डूबने से भाई-बहन समेत तीन मासूम बच्चों की मौत हो गई। एक 18 वर्षीय युवती घटना के दौरान बेहोश हो गई। उसे कान्हीवाड़ा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। इस दर्दनाक घटना से क्षेत्र में शोक का माहौल है। वहीं पुलिस मामले की जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रही है।

कान्हीवाड़ा थाना प्रभारी दिलीप पंचेश्वर ने बताया कि रामकुमारी पिता किशन मर्सकोले (18) सोमवार दोपहर करीब 1 बजे भटेखारी से जावना मार्ग में बकरी चराने जा रही थी। तीनों बच्चे रामकुमारी के साथ खेत जा रहे थे। चमनलाल भलावी के खेत में बनाए गए गड्ढे में भरे पानी में बच्चे कीचड़ से भरे पैर धो रहे थे।

गड्ढे के पानी में एक-एक कर डूब गए

इसी दौरान पैर फिसलने से तीनों 10 से 15 फीट गहरे गड्ढे के पानी में एक-एक कर डूब गए। रामकुमारी ने बच्चों को बचाने की कोशिश की लेकिन मदद नहीं मिली। गड्ढे की पार पर ही वह गिरकर बेहोश हो गई। बच्चों का शव बाहर निकालने के लिए पुलिस को क्षेत्र के तैराकों की मदद लेनी पड़ी।

मृतकों में ये बच्चे शामिल

मृतकों में भटेखारी गांव निवासी संजना (14) पिता हेमराज मर्सकोले, सुधीर (05) पिता हेमराज मर्सकोले व अमित (05) पिता डिल्लीराम मर्सकोले शामिल हैं।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber