डायल 100 को फोन कर लगा ली फांसी, जनिये फिर क्या हुआ

जबलपुर। जबलपुर स्थित गौर नीमखेड़ा में बुधवार को दोपहर 2.25 बजे के लगभग पत्नी को जबरन चाचा ससुर व साले अपने घर ले जा रहे थे, जिससे नाराज शंकर बर्मन  ने डायल 100 में फोन करके जानकारी देते हुए कहा कि अब मैं आत्महत्या  करने जा रहा हूं.
इस बात की जानकारी मिलते ही डायल 100 वाहन आनन-फानन मौके पर पहुंच गया, देखा तो शंकर के गले में फाँसी का फंदा है, वह फडफ़ड़ा रहा है, पुलिस कर्मियों ने तत्काल फंदा काटकर शंकर को अस्पताल पहुंचाया, जहां पर उसकी जान बचाई जा सकी. पुलिस के अनुसार नीमखेड़ा निवासी शंकर बर्मन की पत्नी को आज उसके चाचा ससुर व साला जबरन अपने घर लेकर चले गए, पत्नी के चले जाने से व्यथित शंकर ने डायल 100 को फोन कर कहा कि वह पत्नी के बिना नहीं रह सकता है और आत्महत्या करने के लिए जा रहा है. इस बात की सूचना पर डायल 100 वाहन में तैनात पुलिस कर्मी अवधेश व चालक धर्मेन्द्र तत्काल मौके पर पहुंच गए, जिन्होने दरवाजा खोला तो देखा कि शंकर फांसी के फंदे पर झूल रहा है, पैर हिला रहा है.
पुलिस कर्मियों ने तत्काल पैर पकड़े, इसके बाद फंदा काटकर शंकर को नीचे उतारा, उस वक्त तक आसपास के लोग एकत्र हो गए, पुलिस कर्मियों ने शासकीय अस्पताल पहुंचाया, जहां पर उपचार के बाद शंकर की हालत अब ठीक बताई जा रही है. शंकर द्वारा आत्महत्या किए जाने की खबर के बाद ससुराल वाले भी पत्नी को लेकर तत्काल पहुंच गए.