हनी ट्रेप मामला: मंत्री सज्जन सिंह बोले- सरकार अस्थिर करने की कोशिश तो पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा-ट्रांसफर, पोस्टिंग कराती थीं ये महिलाएं

Advertisements
इंदौर, उज्जैन। मध्यप्रदेशमें हनीट्रैप कांड पर बवाल बढ़ गया है कांग्रेस ने जहां इस मामले में भाजपा पर सरकार को अस्थिर करने की कोशिश करने का आरोप लगाया तो वही आज पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में ट्रांसफर पोस्टिंग भी यही हनीट्रैप गिरोह करता था।मध्य प्रदेश के हाईप्रोफाइल हनी ट्रैप मामले में पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि वो किसी श्वेता जैन को नहीं जानते। उन्होंने आरोप लगाया कि इसी रैकेट के इशारे पर कलेक्टरों की पोस्टिंग हुई है। बता दें कि श्वेता जैन सागर की रहने वाली हैं। इधर एसएसपी ने हनी ट्रैप मामले की जांच कर रहे एक पुलिस अधिकारी को लाइन हाजिर कर दिया है।
सरकार गिराने की कोशिश- सज्जन
उधर उज्जैन में हनी ट्रैप मामले में प्रदेश के लोक निर्माण व जिले के प्रभारी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा ने कहा कि महिलाओं के माध्यम से कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की जा रही है। किसी का नाम लिए बगैर विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि कुछ ऐसे तत्व हैं, जो सरकार को गिराने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने मंत्रियों, विधायकों और बड़े अधिकारियों के पीछे महिलाओं को छोड़ा है।

भूपेंद्र बोले – श्वेता जैन को नहीं जानता

बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले को लेकर प्रदेश के पूर्व गृह मंत्री और भाजपा विधायक भूपेंद्र सिंह ने एमपी पुलिस की तारीफ की है। इंदौर पहुंचे भूपेंद्र सिंह ने कहा कि वे एमपी पुलिस को बधाई देते हैं कि इस तरह के गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। उन्होंने कहा कि इस तरह के गिरोह सिस्टम के लिए घातक साबित हो रहे हैं। गिरोह की मास्टरमाइंड श्वेता जैन से जान-पहचान को लेकर पूर्व मंत्री ने कहा, ‘मैं श्वेता जैन को नहीं पहचानता।’
भूपेंद्र सिंह ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए आरोप लगाया कि प्रदेश में कलेक्टरों की पोस्टिंग इसी गिरोह के इशारे पर हो रही है। उन्होंने इस मामले की जांच STF या CBI से कराए जाने की मांग की। प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री के बीजेपी नेताओं पर लगाए आरोपों को लेकर भूपेंद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस अपने लोगों के चरित्र पर ही सवाल उठा रही है। इसका मतलब यही है कि कांग्रेस के नेता हनी ट्रैप में आसानी से फंस जाते हैं।

थाना प्रभारी लाइन हाजिर

इंदौर के एसएसपी ने हनी ट्रैप मामले की जांच में शामिल एक थाना प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है। हाईप्रोफाइल मामले की जांच के दौरान पुलिस अफसर पर इस कार्रवाई को लेकर भी कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। विदेश दौरे से लौटे प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी (Jeetu Patwari) ने मामले को चिंताजनक बताते हुए कहा कि कानून अपना काम कर रहा है। जो भी लोग दोषी होंगे, उन पर शिकंजा कसा जाएगा।
Advertisements