रेत पर कांग्रेस में रार: अपनी ही सरकार के खिलाफ कांग्रेस अध्यक्ष ने निकाली रैली

आलीराजपुर। रेत को लेकर पूरे प्रदेश में कांग्रेस में अंतर्कलह सामने आ रही है। इसे लेकर बड़े नेता भी बयानों के बाण चलाते रहते हैं । अब सन्गठन भी रेत पर आंदोलन करने लगा है। दरअसल रेत की राजनीति कांग्रेस में कलह का सबसे बड़ा कारण बन चुकी है। जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश पटेल ने अपनी ही सरकार द्वारा बनाई गई रेत नीति के खिलाफ प्रदर्शन किया। उनके साथ रेत विक्रेता और ठेकेदार थे। ट्रैक्टर ट्रालियों की रैली बनाकर उन्होंने अपना शक्तिप्रदर्शन किया एवं कलेक्टर पर दवाब बनाने की कोशिश की।

कलेक्टर के सामने प्रदर्शन किया, ज्ञापन सौंपा
कमलनाथ सरकार के नई खनिज नीति लागू करने के निर्णय के बाद गुरुवार को जिला कांग्रेस अध्यक्ष महेश पटेल के नेतृत्व में सैकडों रेत विक्रेता व ठेकेदार ट्रैक्टर ट्रालियों के साथ कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। राज्यपाल व मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर सुरभि गुप्ता को ज्ञापन सौंप नई रेत नीति प्रतिबंधित कर स्थानीय लोगों को अधिकार प्रदान करने की मांग की।

पूर्व समिति अध्यक्ष महेश पटेल ने कहा कि मप्र शासन ने हाल ही में पूरे प्रदेश में नई नीति लागू की है। नई रेत नीति से इस आदिवासी बाहुल्य जिले में रेत बेचने का काम कर रहे आदिवासी ठेकेदारों व ट्रैक्टर मालिकों को काफी नुकसान होगा। नई नीति से ब्लॉक स्तरीय ऑनलाइन नीलामी का प्रावधान कर दिया है।

सरकार आदिवासियों की रोजी रोटी छीन रही है
इससे बड़े-बड़े बाहरी ठेकेदारों को फायदा मिलेगा। पटेल ने कहा नई रेत नीति से जिले के गरीब आदिवासियों का रोजगार कम होगा। सरकार आदिवासियों के घर चलाने के प्रमुख साधन को छीनना चाहती है। यदि नई रेत नीति में बदलाव नहीं किया गया तो भोपाल जाकर कमलनाथजी का घेराव करेंगे।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber