Katni : गैरहाजिर 4 शिक्षकों को नोटिस, अतिथि शिक्षक की सेवाएं समाप्त

कटनी। कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने बहोरीबंद के ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर आंगनबाड़ी केन्द्र, स्कूल, ग्राम पंचायत कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होने पर्यटन की संभावनाओं के तहत बहोरीबंद के कूड़न जलाशय और रुपनाथ धाम का भी मौका निरीक्षण किया। इस मौके पर एसडीएम सपना त्रिपाठी, जिला शिक्षा अधिकारी बी बी दुबे, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग नयन सिंह, तहसीलदार आर के पाण्डेय, जनपद सीईओ मीना कश्यप भी उपस्थित रहे। कलेक्टर ने बहोरीबंद क्षेत्र के स्लीमनाबाद, टिकरिया, आनन्दपुर तिहारी, बड़खेरा भरदा, कूड़न, रुपनाथ धाम, बचैया गाड़ा, पड़रिया सहित बहोरीबंद मुख्यालय के भ्रमण के दौरान आंगनबाड़ी केन्द्र, प्राथमिक, माध्यमिक शालाओं एवं ग्राम पंचायतों का आकस्मिक निरीक्षण किया। कलेक्टर द्वारा प्राथमिक शाला आनन्दपुर तिहारी के निरीक्षण के दौरान शाला में कक्षा 1 से 5 तक कुल 10 बच्चे दर्ज पाये गये। जबकि यहां दो सहायक शिक्षक वर्ग-3 श्रीमती रीना ठाकुर और अफसरी बेगम पदस्थ हैं। कलेक्टर ने मात्र 10 बच्चो पर 2 शिक्षकों की पदस्थगी पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुये जिला शिक्षा अधिकारी को तत्काल शाला का युक्तियुक्तकरण करने के निर्देश दिये।

अनुशासनात्मक कार्यवाही के लिए कारण बताओ नोटिस जारी
कलेक्टर श्री सिंह ने माध्यमिक और प्राथमिक शाला कूड़न का आकस्मिक निरीक्षण कर मध्यान्ह भोजन, पठन-पाठन की गतिविधियों और शिक्षकों की उपस्थिति की जानकारी ली। विद्यालय में 5 शिक्षक और 2 अतिथि शिक्षक पदस्थ हैं। प्राथमिक खण्ड में 139 और माध्यमिक खण्ड में 90 छात्र पंजीकृत हैं। कलेक्टर ने शिक्षकों की उपस्थिति पंजी की जांच की। इस दौरान केवल एक शिक्षक जगदीश सिंह और एक अतिथि शिक्षिका ही उपस्थित पाये गये। शेष पदस्थ शिक्षकों में धनेन्द्र सहारे 5 दिन से, साधना गौतम 3 दिन से, रोशनी साहू 3 दिन, नर्मदा शिवहरे 3 दिन और अतिथि शिक्षक सतीश दुबे 3 दिन से अनाधिकृत रुप से अनुपस्थित पाये गये। कलेक्टर ने अनाधिकृत रुप से शाला से अनुपस्थित शिक्षकों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु कारण बताओ नोटिस जारी करने तथा अतिथि शिक्षक की सेवा समाप्त करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिये। कलेक्टर ने कहा कि बीईओ और बीआरसी पर जिम्मेदारी निर्धारित कर उन्हें भी कारण बताओ नोटिस जारी करें।
आंगनबाड़ी में दिए जा रहे पोषण आहार का लिया जायजा
कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र स्लीमनाबाद, टिकरिया, आनन्दपुर, बड़खेरा भरदा के निरीक्षण के दौरान बच्चों को दिये जा रहे पोषण आहार, आंगनबाड़ी में पेयजल, स्वच्छता, विद्युत कनेक्शन, अतिकम वजन के बच्चों के संबंध में जानकारी ली। उन्होने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और वहां उपस्थित बच्चों की माताओं को स्वच्छता के महत्व और पोषण गतिविधियों की जानकारी देकर बच्चों में स्वच्छता की आदत और संस्कार अभी से डालने की समझाईश दी। ग्राम पंचायत बड़खेरा भरदा के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने मनरेगा के कार्य, मजदूरी भुगतान, सामाजिक सुरक्षा पेंशन सहित स्वच्छता माह में की जा रही गतिविधियों की जानकारी ली। बाद में कलेक्टर श्री सिंह ने बहोरीबंद पहुंचकर तहसील कार्यालय और एसडीएम कार्यालय का निरीक्षण कर राजस्व प्रकरणों के निराकरण के संबंध में जानकारी ली।
गाड़ा पड़रिया में उपलब्ध कराई मोटर वोट
कलेक्टर भ्रमण के दौरान ग्राम गाड़ा पड़रिया भी पहुंचे। उन्होने गांव के बीच से निकलने वाली सुहार नदी के बढ़े हुये जलस्तर का भी निरीक्षण किया। ग्रामीणों ने बताया कि नदी में पानी का जलभराव अधिक होने से गांव के उस पार जाने का रास्ता बंद हो गया है। ग्रामीण जन एक नाव के सहारे उस पार जा रहे हैं। कलेक्टर श्री सिंह ने नदी में डूबे सड़क मार्ग में आवागमन रोकने बैरिकेट सहित होमगार्ड के जवानों की ड्यूटी लगाने और मोटर बोट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होने ग्रामीणों से कहा कि नदी के बहाव से दूर रहें और नाव का उपयोग नहीं करें। होमगार्ड के जवान और मोटर बोट की उपलब्धता तत्काल करा दी गई है।
रुपनाथ धाम और कूड़न जलाशय का किया निरीक्षण
कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में पर्यटन की संभावनाओं के दृष्टिगत पुरातत्व और धार्मिक महत्व के स्थल रुपनाथ धाम और कूड़न जलाशय का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होने स्थानीयजनों से इन स्थलों के बारे में चर्चाकर जानकारी भी ली।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber