Bhopal : इस बार बारिश से परेशान लोगों ने करा दिया मेंढक-मेंढकी का तलाक़

Advertisements

भोपाल. भोपाल (Bhopal) में मॉनसून (Monsoon) के आने में देरी से फिक्रमंद लोगों ने टोने-टोटके शुरू कर दिए थे. अच्‍छी बारिश के लिए मेंढक-मेंढकी की शादी तक कराई गई. कुछ दिनों के बाद भोपाल समेत मध्‍य प्रदेश के अन्‍य इलाकों में मूसलाधार बारिश शुरू हो गई. अब आलम यह है कि बारिश खत्‍म होने का नाम नही ले रही है. लगातार मूसलाधार बारिश से परेशान लोगों को फिर से मेंढक-मेंढकी की याद आ गई और उन्होंने बारिश बंद कराने के लिए फौरन दोनों का तलाक करा दिया.

बारिश के लिए टोटका
मध्य प्रदेश में एक टोटका काफी प्रचलित है. बारिश नहीं होती है तो लोग मेंढक-मेंढकी की शादी करा देते हैं. शादी खूब धूमधाम से होती है. इस साल भी जब काफी देर तक मॉनसून नहीं आया तो घबराए लोगों को लगा कि इस बार कहीं सूखा न पड़ जाए. इंद्र देव को मनाने के लिए लोगों ने तुरत-फुरत मेंढक-मेंढकी की शादी करा दी. इंद्र देव तो ऐसे प्रसन्न हुए कि अब बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है.

विधि-विधान से किया अलगाव

मध्य प्रदेश का एक बड़ा हिस्‍सा बारिश से परेशान है. शहडोल, सीधी और सतना को छोड़कर बाकी़ जगह बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है. राजधानी भोपाल में भी रोज़ मूसलाधार बारिश हो रही है. मौसम विभाग अभी भी कह रहा है कि इस पूरे महीने बारिश होगी. मौसम विभाग ने 35 ज़िलों के लिए रेड, ऑरेंज और यलो अलर्ट जारी किया है. ऐसे हालात में लोगों को याद आ गया कि उन्होंने टोटका किया था.

भोपाल में जिन लोगों ने मेंढक-मेंढकी की शादी कराई थी, उन्हीं ने मेंढक-मेंढकी का तलाक़ करा दिया. इसके लिए बकायादा पूजा की गई. उसमें प्रतीक के तौर पर मिट्टी के मेंढक-मेंढकी रखे गए और दोनों को पूरे विधि-विधान से अलग किया गया. बाद में मिट्टी के ये मेढ़क-मेढ़की पानी में विसर्जित कर दिए गए.

Advertisements