जबलपुर की आयुध निर्माणी इकाईयों को लेकर रक्षामंत्री से मिले सांसद विवेक तन्खा, मिला ये आश्वासन

नई दिल्‍ली;जबलपुर। विगत कई दिनों से देश भर में आयुध कर्मचारियों की चली आ रही हड़ताल से सम्बन्ध में आज नयी दिल्ली में मध्यप्रदेश से राज्य सभा सांसद एवं भारत के पूर्व एडिशनल सोलिसिटर जनरल एवं मध्य प्रदेश के पूर्व महाधिक्वता विवेक तन्खा ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। श्री तन्खा ने रक्षा मंत्री को अवगत कराया कि इस हड़ताल की वजह से देश भर की लगभग 41 आयुध निर्माण इकाईयों में उत्पादन बंद रहा तथा रक्षा उपकरणों के उत्पादन की क्षमता पर विपरीत असर पड़ा है।

श्री तन्खा ने केंद्रीय मंत्री को अवगत कराया कि जबलपुर में गन कैरिज फैक्ट्रीए व्हीकल फैक्ट्री, ऑर्डनेन्स फैक्ट्री एवं ग्रे आयरन फाउंडरी जैसी चार प्रमुख आयुध निर्माण इकाईयां हैं जो काम के संकट से जूझ रही हैं और साथ ही आग्रह किया उक्त आयुध निर्माण इकाईयों की उत्पादन क्षमता को बढ़ाने उचित कदम उठाएं तथा काम की कमी को दूर करने समुचित प्रयास करें। इस सम्बन्ध के उन्होंने अनुरोध किया कि जबलपुर की अर्थव्यवस्था की प्रतीक आयुध निर्माण इकाईयों जिन्हें आज केंद्र के सहयोग की आवश्यकता है एवं जबलपुर में क्रमिक क्लस्टर विकास की आज आवश्यकता एवं जबलपुर की आयुध निर्माण इकाईयों में कार्यरत व्यक्तियों एवं कामगारो में असुरक्षा की भावना को दूर करने एवं रोजगार को बढ़ावा देना अतिअवाश्यक है। श्री तन्खा ने आग्रह किया कि जबलपुर व देश की आयुध निर्माण इकाईयों के प्रति केंद्र सरकार संवेदनशील रुख अपनाकर उन्हें मजबूती प्रदान करें।

इस सम्बन्ध में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने श्री तन्खा को जबलपुर स्थित आयुध कारखानों के पुनर्जीवित करने हेतु आगे भी चर्चा करने हेतु आश्वस्त किया एवं कहा कि केंद्र सरकार इन कर्मचारिओं के हितों की रक्षा करने हेतु हर संभव कदम उठाएगी।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber