Katni: झर्राटिकुरिया शराब दुकान के सामने गोली चलने से हड़कंप

कटनी। माधवनगर थाना क्षेत्र की रंगनाथ नगर पुलिस चौकी अंतर्गत झर्राटिकुरिया स्थित देशी व विदेशी मदिरा दुकान के सामने भुट्टा दुकान संचालक पर लाइसेंसी बंदूक से गोली चलाने की घटना प्रकाश में आई है। बंदूक से निकली गोली भुट्टा दुकान संचालक के बाजू से होकर गुजर गई और वह बाल-बाल बच गया। गोली चलने की आवाज क्षेत्र में गश्त कर रहे पुलिस चौकी प्रभारी व उनके हमराह स्टाफ ने सुनी और तत्काल मौके पर पहुंच कर गोली चलाने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया। मामले में पुलिस ने भुट्टा दुकान संचालक के विरूद्ध हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार भी कर लिया है। माधवनगर थाना प्रभारी संजय दुबे के मुताबिक उपनगरीय क्षेत्र मंगलनगर निवासी 56 वर्षीय बच्चा उर्फ रामनरेश पिता नत्थूलाल निषाद झर्राटिकुरिया में देशी व विदेशी शराब दुकान के समीप भुट्टा की दुकान लगाता है। बच्चा बीती 26 अगस्त सोमवार की रात लगभग साढ़े दस बजे दुकान बंद कर घर जाने की तैयारी कर रहा था। उसीदौरान शराब दुकान के सामने रहने वाला गब्बर उर्फ गुलाम गौस नामक युवक आया और बच्वा से बीड़ी न जलाने देने की बात पर विवाद करने लगा। मामूली कहासुनी से शुरू हुआ विवाद बढ़ा तो गब्बर भाईजान अपने घर के अंदर से 12 बोर की लाइसेंसी बंदूक से गोली चला दी। बंदूक से निकली गोली बच्चा के बाजू से निकल गई और बाल-बाल बच गया। बताया जाता है कि गोली चलने की आवाज क्षेत्र में गश्त कर रहे रंगनाथ नगर पुलिस चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक सेल्वाराज पिल्लई ने सुनी और प्रधान आरक्षक विजेन्द्र तिवारी, राजेश कोरी, आरक्षक आदर्श सिंह बघेल व महेन्द्र दुबे के साथ तत्काल मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने लाइसेंसी बंदूक से गोली चलाने वाले गब्बर भाईजान को 12 बोर की लाइसेंसी बंदूक, चार जिंदा कारतूस व एक चले हुए कारतूस के खोखे के साथ गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के विरूद्ध हत्या के प्रयास का मामला धाारा 307 के तहत दर्ज कर लिया है।
बीड़ी नहीं जलाने देने की बात पर चलाई गोली
बताया जाता है कि आरोपी गब्बर उर्फ गुलाम गौस के गांव से कोई युवक आया था। वह अपनी बीड़ी जलाने बच्चा निषाद की भुट्टा दुकान गया। जहां बच्चा निषाद ने रोजी रोटी का हवाला देते हुए युवक को बीड़ी नहीें जलाने दिया। बस इसी बात को लेकर गब्बर घटना वाली रात बच्चा निषाद से विवाद करने लगा कि मेरे गांव का युवक आया था, तुमने उसको बीड़ी जलाकर नहीं दी। जिसके कारण मेरी बेईज्जती हुई। इस तरह की बातें कहते हुए गब्बर ने 12 बोर की बंदूक से से गोली चला दी।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber