नर्मदा बचाओ आंदोलन के सत्याग्रहियों का मंच गिरा, बाल-बाल बचीं मेधा पाटकर

बड़वानी। बड़वानी जिले के ग्राम छोटा बड़दा में नर्मदा बचाओ आंदोलन का सत्याग्रह जारी है। इसमें जहां चार महिलाएं क्रमिक अनशन पर हैं, वहीं आंदोलन नेत्री मेधा पाटकर में अनिश्चितकालीन उपवास शुरू कर रखा है, जिसका आज दूसरा दिन है। ओंकारेश्वर बांध और इंदिरा सागर बांध से पानी छोड़े जाने के चलते लगातार जलस्तर में वृद्धि हो रही है। वहीं बारिश शुरू हो जाने से जल स्तर और तेजी से बढ़ने की संभावना है।

इस बीच नर्मदा चुनौती सत्याग्रह का मंच गिरा। मंच के गिरते समय मंच पर मौजूद थी मेधा पाटकर और अन्य कार्यकर्ता। मंच गिरने के बाद मेधा पाटकर पास ही एक धर्मशाला में चली गईं। एनबीए कार्यकर्ता मंच को वापस खड़ा करने में जुटे हुए हैं।