Article 370 Removed: व्यापारिक संबंध खत्म करने के बाद अब पाक ने अफगानिस्तान से कही ये बात

इस्लामाबाद। भारत सरकार द्वारा कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। भारत के साथ व्यापारिक रिश्ता खत्म करने के बाद अब पाकिस्तान अफगानिस्तान को वाघा बॉर्डर के जरिए व्यापार करने से रोक रहा है। इमरान खान के वाणिज्य सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने भारत के साथ व्यापार के निलंबन पर जवाब देते हुए कहा कि वह सभी पहलुओं पर विचार करने के बाद जवाब देगा।

गौरतलब है कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद से लगातार पाकिस्तान में हलचल जारी है। प्रधानमंत्री इमरान खान तीन दिन में दो बार राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) के साथ बैठक कर चुके हैं। हालात यह है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत संग व्यापारिक और राजनयिक संबंध खत्म करने की घोषणा तक कर दी है। इसी बीच कई ऐसी मीडिया रिपोर्ट सामने आ रही है जिसमें कहा जा रहा है कि पाकिस्तान अब अफगानिस्तान को वाघा सीमा के जरिए भारत से माल आयात करने की इजाजत नहीं देगा। इमरान खान के वाणिज्य सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान यह बात कही।

राजक दाउद ने द न्यूज के हवाले से कहा कि हमने अफगानिस्तान को वाघा सीमा के जरिए व्यापार नहीं करने के लिए कहा। अफगानिस्तान ने इस बात पर सहमति भी जता दी है। क्योंकि पारगमन व्यापार (transit trade) द्विपक्षीय मुद्दा है और यह त्रिपक्षीय मुद्दा नहीं है।

अधिकारी जो इस महीने के अंत में अफगानिस्तान का दौरा करेंगे ने कहा कि अफगानिस्तान की तरफ से वाघा सीमा के माध्यम से होने वाला व्यापार का मुद्दा उठ सकता था। लेकिन, उन्होंने स्पष्ट किया कि उन्हें द्विपक्षीय मुद्दे को एक ऐसे मंच पर नहीं जोड़ना चाहिए जो त्रिपक्षीय नहीं है। अफगानिस्तान ने भी इस पर सहमति जताई है।

पाकिस्तान ने बुधवार को भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को निष्कासित कर दिया, इसके बाद उसने जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने के लिए नई दिल्ली के ‘एकतरफा और अवैध’ कदम बताते हुए भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कम करने का फैसला किया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, हमने दिल्ली से अपने राजदूत को वापस बुलाएंगे और उनके दूत को वापस भेजने के लिए कह दिया है।