पुलिस ने काटा चालान तो इलेक्ट्रिशियन ने काट दी पूरे पुलिस स्टेशन की लाइट

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में एक विचित्र घटना सामने आई है, जिसमें एक बिजली बोर्ड के कर्मचारी ने स्थानीय पुलिस स्टेशन की बिजली इसलिए काट की क्योंकि उसी स्टेशन की पुलिस ने उससे हेलमेट नहीं पहनने के लिए जुर्माना लिया था। यह घटना पश्चिमी उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में आगरा शहर के पास दर्ज की गई थी जहां एक इलेक्ट्रीशियन पास के एक फॉल्ट की मरम्मद के बाद कार्यालय लौट रहा था।

इलेक्ट्रीशियन के अनुसार वह लेबर कॉलोनी बिजली स्टेशन से लौट रहा था, जहां शहर के बाडी चपेटी में एक खराबी को सुधारने के बाद उसे प्रतिनियुक्त किया गया था। फिर वहां से वह अपनी बाइक से लौट रहा था, जहां सब-इस्पेक्टर रमेश चंद्रा ने उसे हेलमेट ना पहनने के जुर्म में रोका और 500 रुपये का चालान कर दिया।

इलेक्ट्रीशियन श्रीनिवास ने पुलिस अधिकारी से अपने बॉस से भी बात कराई लेकिन पुलिस से उन्हें माफ करने के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने उसकी बात नहीं सुनी और चालान जारी कर दिया। इस बात से गुस्से में इलेक्ट्रीशियन ने बाद में पुलिस स्टेशन को बिजली सप्लाई काट दी और कहा कि पुलिस ने पुलिस ने 6.62 लाख रुपये की बिजली बिल का भुगतान नहीं किया है।

इलेक्ट्रीशियन का पक्ष लेते हुए DVVNL सब डिविजनल ऑफिसर रणवीर सिंह ने कहा कि उन्होंने लंबित बिलों के लिए पुलिस स्टेशन को कई बार रिमाइंडर जारी किए हैं और यह समझने के बाद कि 2016 के बाद से उन्होंने एक भी रुपये का भुगतान नहीं किया तो कार्यालय ने बिजली सप्लाई में कटौती करने का फैसला किया है। उन्होंने यह भी कहा कि कर्मचारियों को पिछले चार महीनों से कोई वेतन नहीं मिला है और श्रीनिवास चालान के लिए 500 रुपये का भुगतान नहीं कर सकते हैं और यही कारण है कि कर्मचारी गुस्से में है।

दूसरी ओर, पुलिस का दावा है कि यह श्रीनिवास की ओर से कार्रवाई के लिए बुलाया गया था क्योंकि उन्होंने फिरोजाबाद जिले के सभी स्टेशन के लिए DVVNL को 1.15 करोड़ रुपये बिजली बिल का भुगतान किया है। शेष बिल का भुगतान जल्द किया जाएगा।