Zomatoऑनलाइन फूड डिलीवरी ना लेने पर कंपनी ने दिया ऐसा जवाब कि हो रही तारीफ

नई दिल्ली। ऑनलाइन फूड डिलीवर करने वाली कंपनियां आमतौर पर कस्टमर्स द्वारा डिलीवरी ना लेने पर उनका पैसा रिफंड कर देती हैं। लेकिन एक मामले में कंपनी द्वारा कस्टमर को पैसा रिफंड ना करने के लिए जो जवाब दिया गया, उसकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। कस्टमर ने बेतुका कारण बताते हुए ऑनलाइन फूड डिलीवरी कैंसल करते हुए अपना पैसा वापस मांगा था, जिस पर कंपनी की ओर से अपना जवाब दिया गया था।

मामला ऑनलाइन कंपनी र्ंशद्वड्डह्लश से जुड़ा हुआ है। एक कस्टमर ने अपना ऑनलाइन फूड का ऑर्डर सिर्फ इस वजह से कैंसिल कर दिया था क्योंकि उसकी डिलीवरी करने वाला लड़का गैर हिंदू था। ये वजह बताते हुए उसकी ऑर्डर कैंसल कर पैसा वापस करने की मांग की थी। कंपनी को ऑर्डर कैंसल करने की ऐसी बेतुकी वजह बताए जाने पर कंपनी द्वारा ऑर्डर का पैसा वापस करने से मना कर दिया गया था। इस पर कस्टमर द्वारा ट्वीट कर इसकी जानकारी यूजर्स को दी गई थी।

कस्टमर के इस ट्वीट के जवाब में र्ंशद्वड्डह्लश की ओर से भी ट्वीट किया गया जो अब सोशल मीडिया पर यूजर्स की जमकर तारीफ बटोर रहा है।

कस्टमर अमित शुक्ला के मुताबिक, उसके ऑनलाइन ऐप जोमेटो की मदद से ऑनलाइन फूड ऑर्डर किया था, लेकिन कंपनी ने इस एक गैरहिंदू लड़के के हाथों डिलीवर कराया था। इस पर अमित ने ट्वीट कर लिखा कि कंपनी द्वारा उसका पैसा वापस नहीं किया जा रहा है।

इसके जवाब में र्ंशद्वड्डह्लश द्वारा रिट्वीट किया गया ‘खाने का कोई धर्म नहीं होता है। बल्कि ये खुद धर्म होता है।’ जोमेटो के इस जवाब के बाद सोशल मीडिया पर इसकी जमकर तारीफ होने लगी।एक यूजर ने जोमेटो को इसके लिए धन्यवाद दिया तो एक ने ऐसे कस्टमर्स को हमेशा के लिए ब्लॉक करने की सलाह तक दे डाली।