Jabalpur: द्वार सभाओं में गरजे नेता, पुतला फूंका, प्रदर्शन

जबलपुर। सुरक्षा कारखानों के निगमीकरण के खिलाफ कर्मचारियों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए जमकर हड़ताल के पक्ष में मतदान कर अपनी हिस्सेदारी निभाई। इसके साथ ही फैिट्रयों की द्वार सभाओं में श्रमिक नेताओं ने जमकर सरकार की नीतियों की आलोचना की ।यह पहला मौका है जब सुरक्षा कारखानों में एक मजदूर से लेकर राजपत्रित अधिकारी तक सरकार के निर्णय के खिलाफ एकजुट होकर मैदान में आ गए हैं ।

सभी श्रम संगठन और एसोसिएशन की ओर से लगातार द्वार सभाएं प्रदर्शन और पुतला दहन का क्रम जारी है ।संयुक्त संघर्ष समिति के निर्णय के अनुसार आगामी 1 अगस्त को सभी संस्थानों के महाप्रबंधक ओं को रक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा आज सुबह सेसभी सुरक्षा स्थानों में फेडरेशन और एसोसिएशन अलग-अलग मतदान करा रहे हैं ।पूर्व की अपेक्षा इस बार निर्माणियों में हड़ताल के लिए लोगों का शत-प्रतिशत रुझान दिखाई दे रहा है ।

शहर की आर्थिक रीढ़ की होगी क्षति आयुध निर्माणी खमरिया में कल शाम सभी यूनियन एसोसिएशन की ओर से गेट नंबर एक पर द्वार सभा की गई।

जिसमें अखिल भारतीय राजपत्रित अधिकारी संघ के डी सी पांडे भारत भूषण ओझा आदि ने कहा कि सुरक्षा कारखाने इस शहर की आर्थिक रीढ़ है ।सबसे ज्यादा नुकसान निगमीकरण से यदि होगासुरक्षा कारखाने ही यहां की आर्थिक रीढ़ है ।राजपत्रित एवं अराजपत्रित अधिकारियों ने काली पट्टी बांधकर अपना विरोध जताया ।

सभा को श्री मुखर्जी, संतोष चौधरी. लेरिकल एसोसिएशन के डी के वर्मा, दीपक कुमार राजपत्रित अधिकारी संघ के डीके चौधरी, सरोज बिस्वाल, रामानंद यादव के साथ श्रमिक महासंघ के प्रतिनिधि उपस्थित थे ।खमरिया में आज संघर्ष समिति एवं कल 31 जुलाई को संयुक्त संघर्ष समिति हड़ताल के लिए मतदान लेगी। संघर्ष समिति के रूपेश पाठक राजेंद्र चराडिया ,विनय भावे ,पुष्पेंद्र सिंह तथा संयुक्त संघर्ष समिति के अरनव दासगुप्ता सरोज शरद अग्रवाल रामप्रवेश अरुण दुबे मुकेश विनोदिया आनंद शर्मा आदि ने कहा कि भले ही संगठन के निवेश पर कार्यक्रम अलग अलग है लेकिन हम सभी का एक ही उद्देश्य है ।

लिहाजा सरकार अथवा प्रबंधन कोई भ्रम में ना रहे। जीसीएफ कर्मचारी यूनियन कार्यालय में सभी सुरक्षा संस्थानों के श्रम संगठन और एसोसिएशन की बैठक में हरपाल की रणनीति पर मंत्रणा हुई जिसमें एच एल विश्वकर्मा को जॉन समन्वयक बनाया इसके साथ ही भी कल से वीके दुबे खमरिया से सरोज विश्वास जीआईएफ संजय तिवारी समन्वयक सदस्य चुने गए चर्चा के दौरान धरना ज्ञापन भोजन बहिष्कार एवं प्रदर्शन पुतला दहन आदि के कार्यक्रम तय किए गए ।

20 अगस्त से 1 माह तक चलने वाली सुरक्षा कारखानों की हड़ताल को लेकर आज सुबह व्हीकल एवं जीआईएफ में हुए मतदान में कर्मचारियों ने जमकर हिस्सा लिया।

जिसके चलते गेटों पर अच्छी खासी भीड़ रही ।इसके पूर्व कल शाम को व्हीकल में गेट नंबर 1 एवं तीन पर सभी यूनियन एवं एसोसिएशन की संयुक्त जंगी आम सभा हुई। जिसमें सरकार से अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने की अपील के साथ ही चेतावनी दी गई कि सरकार हम सुरक्षा मजदूरों की परीक्षा न ले। हम सभी सुरक्षा कर्मचारी ऐसे मौके पर एक हैं और एक रहेंगे।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber