CBSE परीक्षा में होने जा रहा बड़ा बदलाव, अब 12वीं की परीक्षा में 80 अंक लिखित व 20 अंक प्रैक्टिकल के

Advertisements

नई दिल्ली। सीबीएसी 12वीं के छात्रों को संभवतः अगले सत्र से मार्किंग की नई पद्धति का सामना करना पड़ सकता है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 12वीं बोर्ड की परीक्षा में अगले साल से बड़ा बदलाव करने जा रहा है।

2020 से सभी विषयों के प्रश्न पत्र (लिखित परीक्षा) 80 अंक के होंगे और प्रैक्टिकल यानी आंतरिक मूल्यांकन (इंटरनल असेसमेंट) 20 अंकों का होगा। अभी तक 12वीं के केमिस्ट्री समेत कुछ ही विषयों के प्रश्न पत्र 80 अंक के थे। 12वीं में ऑब्जेक्टिव सवाल भी ज्यादा पूछे जाएंगे, जो कि एक-एक अंक के होंगे। साथ ही 10वीं में भी लिखित परीक्षा 80 अंकों की और प्रैक्टिकल 20 अंकों का होगा।

बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में सीबीएसई की तरफ से जल्द जानकारी दी जाएगी। नईदुनिया के सहयोगी प्रकाशन दैनिक जागरण से बातचीत में सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने बताया कि हम इस पर काम कर रहे हैं और जल्द ही इसकी सूचना लोगों को दी जाएगी।

12वीं के सभी विषयों में यह बदलाव होगा। अब तक कुछ ही विषयों में 80 अंक के प्रश्न पत्र आते थे, लेकिन अब सभी विषयों में 80 अंक के प्रश्न पत्र आएंगे। बोर्ड के अधिकारियों की तरफ से इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है।

12वीं के छात्र इसके लिए तैयार हो सकें, इसलिए सितंबर तक नए नियमों की जानकारी और सैंपल पेपर बोर्ड की वेबसाइट पर जारी कर दिए जाएंगे। बोर्ड प्रश्न पत्रों के मूल्यांकन की प्रक्रिया में भी कुछ बदलाव करने जा रहा है। मूल्यांकनकर्ताओं को पहले की तुलना में कम उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन करने की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है।

Advertisements