Omg: इस समुदाय ने लड़कियों के मोबाइल पर लगाया बैन, पिता पर 1.50 लाख का जुर्माना

Advertisements

बानसकांठा। 21वीं सदी जहां महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। उसी समाज में समय-समय परमहिलाओं को दबाने के लिए तुगलकी फरमान जारी किए जाते हैं। गुजरात के बानसकांठा में एक ऐसा ही तुगलकी फरमान सामने आया है। बानसकांठा के दांतीवाड़ा गांव में ठाकोर समुदाय ने अविवाहित लड़कियों के मोबाइल फोन इस्तेमाल पर बैन लगाने का फरमान लगाया है। ठाकोर समुदाय ने रविवार को गांव में एक बैठक की, जिसमें ये फैसला लिया गया।

ठाकोर समुदाय के नए नियम के मुताबिक, अविवाहित लड़कियों को मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करना है। फरमान में यह भी कहा गया है कि अगर किसी लड़की ने इस नियम को तोड़ा तो उसे कड़ी सजा सुनाई जाएगी। सजा के अलावा लड़की के पिता से 1.50 लाख (डेढ़ लाख) रुपए जुर्माने के तौर पर वसूले जाएंगे।

ठाकोर समुदाय के जिला पंचायत सदस्य, जयंतीभाइ ठाकोर ने कहा, ‘रविवार को बैठक में यह फैसला लिया गया कि शादियों में होने वाले अतिरिक्त खर्चों में कमी लाइ जाएगी। शादियों में डीजे, पटाखों इत्यादि पर होने वाले खर्च को रोका जाएगा। हम इससे पैसे बचा सकते हैं। हमने अभी मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर बैन और सजा पर सोचा है। दस दिनों में हम इसपर पूरी तरह से फैसला ले लेंगे कि अविवाहित लड़कियों को मोबाइल फोन नहीं दिया जाए। इसके अलावा अगर कोई लड़की ने बिना अपने परिवार की मर्जी के बगैर शादी करती है तो इसे अपराध माना जाएगा।’

बता दें, अगर ये नियम लागू हो जाता है तो ये बानसकांठा के दांतीवाड़ा गांव के साथ कोटजा, गगूदा, ओडवा, हरियावाड़ा, मरपुरिया, शेरगढ़, तेलपुरा, रंदौल, रतनपुर, दनारी और वेलावास जैसे आसपास के गांवों में भी लागू हो माना जाएगा।

Advertisements