आज आएगा आर्थिक सर्वे, 5 जुलाई को पेश होगा आम बजट

नई दिल्ली। आम बजट से एक दिन पहले देश का आर्थिक सर्वे पेश होगा। संसद में मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यन इसे पेश करेंगे। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का यह पहला आर्थिक सर्वे होगा। अंतरिम बजट 2019 के दौरान आर्थिक सर्वे पेश नहीं किया गया था, क्योंकि इसे पूर्ण बजट के साथ ही पेश किया जाता है।

आर्थिक सर्वे में अर्थव्यवस्था, राजकोषीय खाका, मौद्रिक प्रबंधन, कृषि, निर्यात, उद्योग, बुनियादी ढांचा, सर्विस सेक्टर, सोशल इंफ्रास्ट्राक्चर और रोजगार जैसे चैप्टर होते हैं। सुब्रमण्यन ने बुधवार को ट्वीट किया ‘गुरुवार को मेरे और नई सरकार के पहले आर्थिक सर्वे संसद में पेश करने को लेकर उत्साहित हूं।’

सुब्रमण्यन के एजेंडे में कृषि, नौकरी और निवेश प्रमुख रूप से होंगे। उन्हें मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल के अंतिम दिनों में नियुक्त किया गया था। आर्थिक सर्वे के भीतर सरकार की स्कीमों का लेखा जोखा होता है। इसमें देश की अर्थव्यवस्था की हालत की भी जानकारी भी होती है। साथ ही सरकार के किए गए कामों का असर क्या हो रहा है, इसकी पूरी जानकारी होती है।