बीना में प्लाट के विवाद पर 4 लोगों की हत्या, एक गम्भीर

Advertisements

बीना(सागर)। बीना के गणेश वार्ड में शुक्रवार को प्लाट को लेकर हुए विवाद में एक युवक ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर अपने ही दो चचेरे भाइयों, भाभी और भतीजे को मौत के घाट उतार दिया। चाची को गंभीर हालत में रेफर किया गया है। जबकि एक भाई की पत्नी और तीन बच्चाें ने छिपकर जान बचा ली। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर बंदूक जब्त कर ली।

बीना टीआई अनिल मौर्य के मुताबिक रात करीब 8.30 बजे आरोपित मनोहर सगर ने अपने ही चचेरे भाई मनोज सगर(35), संजीव सगर(32), भाभी राजकुमारी(26) पत्नी संजीव और भतीजे यशवंत(10) पुत्र संजीव, चाची ताराबाई(65) को अपनी लाइसेंसी 12 बोर की बंदूक से गोली मार दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। सभी घायलों को बीना सिविल अस्पताल पहुंचाया।

जहां डॉक्टर ने मनोज, संजीव, राजकुमारी और यशवंत को मृत घोषित कर दिया। वहीं ताराबाई को गंभीर हालत में सागर रेफर कर दिया। हमले के दौरान मनोज की पत्नी और तीन बच्चों ने खुद को घर में ही छुपाकर जान बचाई। पुलिस ने आरोपित मनोहर को गिरफ्तार कर उसकी बंदूक और मौके पर पड़े खोखे जब्त कर लिए। आरोपित पर घर में घुसकर हत्या और जानलेवा हमला करने का केस दर्ज किया है।

प्लाट को लेकर चल रहा है विवाद

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मृतक और आरोपित पास-पास ही रहते हैं। उनके घर के पास ही एक प्लाट है। जिस पर दोनों पक्ष अपना कब्जा बताते हैं। इसी के चलते उनमें रंजिश चली आ रही है। शुक्रवार की रात भी विवाद हुआ, तो मनोहर घर से बंदूक उठा लाया और मनोज के घर में घुसकर जो भी सामने दिखा, उसे ही गोली मार दी।

पूरा इलाका गोलियों की आवाज से गूंज उठा। इस हत्याकांड से पड़ोसियों के दिल भी दहल गए। वारदात की सूचना मिलते ही अस्पताल में अन्य रिश्तेदार और परिचित भी पहुंच गए थे। वहां एक साथ चार लाशें देखकर कई लोग भावुक हो गए। मृतक मनोज की पत्नी और तीनों बच्चे इतनी दहशत में थे कि कुछ भी नहीं बोल पा रहे थे।

Advertisements