जबलपुर से अगले एक माह कठिन होगा रेल सफर 117 ट्रेनें प्रभावित कुछ अधारताल तो कुछ कटनी से होंगी रवाना

Advertisements

जबलपुर। जबलपुर रेल मंडल के डीआरएम ने इंजीनियरिंग, सिग्नल, इलेक्ट्रिकल, ऑपरेटिंग और मैकेनिकल विभाग के एक्सपर्ट के साथ बैठक कर स्टेशन रिमॉडलिंग की योजना तैयार कर ली है।  छोटे-छोटे स्तर पर काम शुरू हो गया है।  21 जून से ब्लॉक लेकर काम होगा। इस दौरान जबलपुर से गुजरने वाली तकरीबन 30 ट्रेनों को कटनी और इटारसी से भोपाल के रास्ते ले जाया जाएगा। वहीं जबलपुर से कटनी की ओर जाने वाली ट्रेनों को अधारताल और इटारसी की ओर जाने वाली ट्रेनों को मदनमहल से रवाना किया जाएगा। मुख्य रेलवे स्टेशन की रिमॉडलिंग का काम 21 जून से शुरू होने जा रहा है। यह काम 21 दिन तक चलेगा। इस दौरान जबलपुर रेलवे स्टेशन से रवाना होने और गुजरने वाली तकरीबन 117 ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित होगी। इनमें कई ट्रेनों को रद्द किया जाएगा तो कई के रूट और स्टेशन भी बदले जाएंगे। 18 दिन तक हर दिन 4 से 5 घंटे तक स्टेशन पर ब्लॉक लेकर रेलवे लाइन और सिग्नल सुधारने का काम होगा, वहीं अंतिम तीन दिन मेगा ब्लॉक लेकर अधिकांश ट्रेनों को रद्द किया जाएगा। वहीं जो ट्रेनें निकलेंगी, उन्हें रूट रिले इंटरलॉकिंग (आरआरआई) सिस्टम से ऑपरेट करने की बजाए मैनुअली निकाला जाएगा।
रेलवे स्टेशन की रिमॉडलिंग का काम होने के बाद प्लेटफार्म 1 और 2, दोनों से ट्रेनों को दोनों ओर रवाना किया जा सकेगा। वहीं एक समय पर सभी 6 प्लेटफार्म पर ट्रेनों को लिया जा सकेगा, जिससे ट्रेनों के आउटर पर खड़े होने की समस्या से निजात मिलेगी।

ट्रेनों का नहीं हो पाएगा मेंटेनेंस

मुख्य रेलवे स्टेशन की रेल लाइन पर ब्लॉक लेकर सिग्नल और पॉइंट बदलने का काम होगा। इस दौरान ट्रेनों की आवाजाही को कुछ समय सिस्टम की बजाए मैनुअली किया जाएगा, जिस वजह से ट्रेनों को मेंटेनेंस के लिए स्टेशन से कोचिंग डिपो तक लाना संभव नहीं है। इस परेशानी को दूर करने के लिए जबलपुर की ट्रेनों को दूसरे रेलवे जोन में मेंटेनेंस करने की तैयारी की जा रही है। इनमें दयोदय एक्सप्रेस, महाकोशल एक्सप्रेस, श्रीधाम एक्सप्रेस के अलावा शक्तिपुंज और अमरावती एक्सप्रेस शामिल हैं।

मदनमहल और अधारताल स्टेशन से रवाना किया जाएगा

जबलपुर से रवाना होने वाली ट्रेनों को मदनमहल और अधारताल स्टेशन से रवाना किया जाएगा। हालांकि मदनमहल स्टेशन में ट्रेन का इंजन बदलने में दिक्कत आ रही है। वहीं अधारताल स्टेशन तक का पहुंच मार्ग खराब है। जबलपुर रेल मंडल के कमर्शियल विभाग के सीनियर डीसीएम बसंत शर्मा ने बताया कि 21 जून से लग रहे मेगा ब्लॉक में यात्रियों की परेशानी को दूर करने के लिए सोमवार को कलेक्टर और कमिश्नर से मुलाकात की जाएगी, ताकि स्टेशन पर पहुंच मार्ग को बेहतर किया जा सके ।

मिलेगा ट्रेन स्टेटस

मुख्य रेलवे स्टेशन पर 21 दिन तक चलने वाले मेगा ब्लॉक के दौरान सबसे ज्यादा परेशानी यात्रियों को होगी। इसमें जबलपुर से रवाना होने वालों को ज्यादा परेशानी उठानी पड़ेगी। उन्हें न केवल अधारताल पहुंचकर ट्रेन पकड़ना होगा बल्कि रिजर्वेशन कराने से पहले ट्रेनों की जानकारी लेना आवश्यक होगी। ट्रेनों को रद्द, आंशिक रद्द या फिर उनके रूट बदलने के लिए जबलपुर मंडल ने रेलवे बोर्ड से स्वीकृति मांगी है।

Advertisements