बिना सदस्यता का मंडल अध्यक्ष, मनमर्जी का नगराध्यक्ष

Advertisements

जबलपुर, नगर प्रतिनिधि। भारतीय जनता पार्टी ग्रामीण जिला अध्यक्ष और युवा मोर्चा ग्रामीण जिला अध्यक्ष के बीच नियुक्यिों को लेकर जमकर घमासान चल रहा है। अब स्थिति यह बन गयी है कि दोनों अपने करीबियों को मनमर्जी से नियुक्त कर रहे हैं। कटंगी में एक ओर जहां मंडल अध्यक्ष को लेकर विरोध बना हुआ था अब कटंगी नगर अध्यक्ष का पद भी विवादों में घिर गया है। जिसमें शिव पटेल व राजमणि पूरी तरह से आमने सामने आ गए हैं।
यह है मामला
कुछ दिनों पूर्व युवा मोर्चा ग्रामीण की कार्यकारिणी की गयी थी जिसमें अर्पण साहू को कटंगी मंडल का अध्यक्ष बनाया गया था। शंकर सिंह राजपूत को कार्यकारिणी सदस्य नियुक्त किया गया था। जानकारी के मुताबिक अर्पण साहू की नियुक्ति राजमणि बघेल द्वारा की गयी थी जबकि उनके नाम की अनुशंसा न तो भाजपा के मंडल अध्यक्ष ने की थी न ही ग्रामीण अध्यक्ष इन दोनों का कहना है कि इन्हें अर्पण साहू के विषय में कोई जानकारी नहीं है। वहीं दूसरी तरफ शंकर सिंह राजपूत जिसे राजमणि की टीम में कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया था उसने नियुक्ति के तुरंत बाद सोशल मीडिया पर पद से इस्तीफा देने की बात कह दी थी और उसके दो ही दिन बाद शिव पटैल ने शंकर सिंह को युवा मोर्चा कटंगी नगर का अध्यक्ष घोषित कर दिया जबकि राजमणि को इस विषय की कोई जानकारी नहीं है।
नहीं हैं सदस्यता
कटंगी मंडल के अध्यक्ष बनाये गए अर्पण साहू के विषय में पार्टी के वरिष्ठ जन बताते हैं कि वे पार्टी के सदस्य नहीं हैं जबकि नगरीय निकाय चुनावा के समय उन्होंने खुलकर पार्टी विरोधी काम किया हुआ था। जिसके चलते उनके परिवार के बहुत से लोगों को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था। इसके अलावा उन्हें कटंगी मंडल का अध्यक्ष बनाया गया है जिसमें 110 गांव आते हैं जिसमें अमूमन ग्रामीण क्षेत्र को प्रतिनिधित्व दिया जाता है लेकिन अर्पण कटंगी नगर में रहते हैं और उन्हें गांव का दायित्व दे दिया गया। इस विषय पर अर्पण का कहना है कि वे लंबे समय से भाजपा के अनुसांगित संगठनों से जुड़े रहे हैं जिसके चलते दोहरी सदस्यता हो जाने के कारण पार्टी की सदस्यता नहीं ली। वहीं संगठन की अनुशंसा के विषय पर उनका कहना है कि उनकी नियुक्ति संगठन की अनुशंसा पर ही हुई है।
अध्यक्ष ने कर दी घोषणा
युवा मोर्चा की कार्यकारिणी की घोषणा युवा मोर्चा अध्यक्ष द्वारा कर दी गयी थी लेकिन ग्रामीण अध्यक्ष द्वारा अब अपने ही लैटरपैड पर कर दी गयी। जबकि युवा मोर्चा अध्यक्ष को इस विषय की कोई जानकारी ही नहीं है। युवा मोर्चा अध्यक्ष द्वारा जिसे अपनी कार्यकारिणी में सदस्य बनाया गया था। उसे ग्रामीण अध्यक्ष द्वारा नगर अध्यक्ष बना दिया गया है। शिव पटैल द्वारा बनाये गए कटंगी नगर अध्यक्ष शंकर सिंह उनके करीबी माने जाते हैं जबकि अर्पण साहू राजमणि के करीबी जिसके चलते पूरा विवाद जोर पकड़ रहा है।
भारतीय जनता पार्टी में संगठन ही सर्वोपरि है और जो भी निर्णय होते हैं संगठन के कहने पर ही होते हैं। जो भी नियुक्तियां हुई हैं उसमें संगठन की पूरी सहभागिता रही है।
शिव पटैल
अध्यक्ष जिला ग्रामीण भाजपा
मेरे द्वारा शंकर सिंह को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया था उसके बाद उन्होंने कब इस्तीफा दे दिया और किसने किस पद पर कौन सी नियुक्ति कर दी मुझे कोई जानकारी नहीं है।
राजमणि बघेल
अध्यक्ष अध्यक्ष जिला ग्रामीण युवा मोर्चा

Advertisements