निजी कॉलेजों में चुनाव की अधिसूचना नहीं हो सकी जारी

Advertisements

जबलपुर,यभाप्र। सरकारी और अनुदान प्राप्त कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव के बाद अब निजी कॉलेजों में चुनाव को लेकर हलचल तेज हो गई है। जबलपुर हाई कोर्ट ने राज्य शासन को 30 अक्टूबर तक इन कॉलेजों में चुनाव की अधिसूचना जारी करने को कहा था, लेकिन अब तक जारी नहीं हुई। राज्य शासन ने पिछले माह चुनाव का औपचारिक ऐलान किया था, तब पहले आदेश में निजी कॉलेजों को भी चुनाव के दायरे में शामिल किया था, लेकिन अगले ही दिन संशोधित आदेश में इन्हें बाहर कर दिया था। इसी के खिलाफ एनएसूयआई ने कोर्ट में याचिका लगाई थी। एनएसयूआई ने कहा कि एक-दो दिन में अधिसूचना जारी नहीं होती है तो वह दोबारा कोर्ट जाएगी और अवमानना याचिका दायर करेगी। एनएसयूआई के ने कहा कि सरकारी तंत्र की मदद के बाद भी चुनाव के नतीजे एबीवीपी के पक्ष में नहीं रहे। जबलपुर में ही कई बड़े कॉलेजों में हमने जीत दर्ज की, इसलिए शासन अब निजी कॉलेजों में चुनाव से बच रहा है। जबलपुर जिले के 60 से ज्यादा निजी कॉलेजों में चुनाव होना हैं। इनमें इंजीनियरिंग कॉलेज शामिल नहीं हैं। अतिरिक्त संचालक उच्चशिक्षा के एल जैन का कहना है कि अभी तक शासन की ओर से कोई दिशा निर्देश नहीं मिले हैं। इसी बीच जीएस कॉलेज में चुनाव जल्द कराने की मांग को लेकर एनएसयूआई अध्यक्ष विजय रजक के नेतृत्व में धरना शुरु करने जा रही है।

Advertisements