#पलटवार: अमित शाह ने कहा- कांग्रेस का चुनावी घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा

नई दिल्ली। भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि कांग्रेस का चुनावी घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा है। यह देश की जनता और बहादुर सैनिकों का अपमान है।

अमित शाह ने मंगलवार को कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र पर नाराजगी जताते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी देशद्रोह विरोधी कानून (धारा-124ए) को हटाने और सशस्त्र बलों को विशेष अधिकार देने वाले अफस्पा कानून को हटाने पर विचार करने का वादा कर रही है। इससे आतंकवादियों के चेहरे पर मुस्कान आ गई है और अलगाववादी सशस्त्र सेना के मनोबल को गिराने का काम कर रहे हैं।

उन्होंने दावा किया, ‘देशद्रोह संबंधी कानून हटाने पर कांग्रेस के शासन में भारत माता की जय के बजाय देशद्रोही गैंग भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगाते मिलेगी।’

वहीं, केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस के घोषणा पत्र की निंदा करते हुए कहा कि इससे केवल देशद्रोही और अलगाववादी ही खुश होंगे। 55 पेज के ‘हम निभाएंगे’ शीर्षक से जारी घोषणा पत्र पर सुषमा स्वराज ने भाजपा महिला कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तल्ख टिप्पणी की।

उन्होंने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक तरफ तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तानी आतंकी हमलों का सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक से मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। दूसरी ओर, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी देशद्रोह को अपराध मानने से ही इन्कार कर रहे हैं।

अगर अफस्पा में संशोधन राष्ट्र विरोधी है तो सरकार ने अरुणाचल प्रदेश के तीन जिलों से इसे क्यों वापस लिया? 2015 में पूरे त्रिपुरा से अफस्पा क्यों हटाया और अभी तक हटा हुआ है? 2018 में मेघालय से अफस्पा क्यों हटाया गया और अभी तक हटा हुआ है- पी. चिदंबरम, वरिष्ठ कांग्रेस नेता ?