Advertisements

सफाई में No.1 इंदौर के इस तालाब में अचानक मर गईं सैकड़ों मछलियां…


इंदौर। बिजासन तालाब( Fish died in Bijasan Pond) की सफाई और गहरीकरण के दौरान सैकड़ों मछलियां मरने से एक बार फिर नगर निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल उठे हैं। माना जा रहा है कि सफाई और गहरीकरण के दौरान पानी कम होने से मछलियां मर गई हैं। हालांकि एक आशंका यह भी जताई जा रही है कि किसी शरारती तत्व ने पानी में केमिकल डाल दिया होगा। इस बीच निगम पानी के सैंपल लेकर उसे लैब में जांच कराने की तैयारी कर रहा है।

बिजासन तालाब की घटना के बारे में निगम जलकार्य समिति प्रभारी बलराम वर्मा ने बताया कि तालाब की सफाई और गहरीकरण का काम पिछले साल से हो रहा है। वहां लगभग 200 मछलियां मरने की आशंका है। प्रभारी ने बताया कि काम से पहले ज्यादातर मछलियां दूसरी जगह शिफ्ट की जा चुकी हैं। कुछ रह गई होंगी जो कम पानी या अन्य किसी वजह से मर सकती हैं। इस बारे में ठेकेदार से भी सवाल-जवाब किया गया तो उसका तर्क है कि मेरी कुलदेवी मछली है। तालाब तैयार होने के बाद दोगुना मछलियां डाल दूंगा। मालूम हो कि इससे पहले बिलावली तालाब में हजारों मछलियां मरने की घटना हुई थी जिसे लेकर शहर में काफी हल्ला मचा था। बाद में मामला रफा-दफा हो गया।

Loading...