Acc में मांगें पूरी नहीं किये जाने से मजदूरों का बढ़ा आक्रोश, हड़ताल

कटनी। भारतीय मजदूर संघ से संबद्ध श्रमिक संगठन एसीसी सीमेंट एवं खदान कर्मचारी संघ के आव्हान पर आज एसीसी प्लांट के स्थाई और ठेका मजदूरों ने काम बंद हड़ताल शुरू कर दी है। आंदोलनरक्त मजदूरों का कहना है कि जब तक मजदूरों की मांगों पर कोई ठोस निर्णय नहीं हो जाता तब तक हड़ताल जारी रहेगी। इस बीच एसीसी मैनेजमेंट द्वारा एसीसी सीमेंट एवं खदान कर्मचारी संघ को पत्र लिखकर अपरान्ह 3 बजे द्विपक्षीय चर्चा के लिए आमंत्रित किया है। इस बीच खबर लिखे जाने तक हड़ताल जारी थी। एसीसी सीमेंट एवं खदान कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने एसीसी मैनेजमेंट पर श्रमिक हितों की उपेक्षा करते हुए तानाशाही पूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। संघ के अध्यक्ष गणेश राव ने बताया कि मैनेजमेंट द्वारा पूर्व में किये गये समझौतों को पूर्णतः लागू नहीं किया जा रहा।
श्रमिकों की समस्याओं को लेकर पूर्व में 15 सूत्रीय मांग पत्र प्रबंधन को सौंपा गया था पर प्रबंधन ने इन्हें स्वीकार करना तो दूर इस पर चर्चा तक करना जरूरी नहीं समझा। ठेका मजदूरों को पूरी हाजिरी नहीं दी जा रही। उनसे बिना भुगतान के ही ओव्हर टाईम कराया जा रहा। यहा तक कि वेतन पर्ची तक नहीं दी जा रही। प्रबंधन पूरी तरह मनमानी पर उतारू है। समस्याओं को लेकर 2 फरवरी को पुनः एक ज्ञापन मैनेजमेंट को सौंपा गया था। जिसे मैनेजमेंट ने गंभीरता से नहीं लिया जिसके परिणाम स्वरूप आक्रोशित मजदूर आज कामबंद हड़ताल पर उतर आये। उन्होंने बताया कि प्रबंधन की ओर से उन्हें 3 बजे द्विपक्षीय वार्ता के लिए बुलाया गया है। इस द्विपक्षीयवार्ता का परिणाम अगर सकारात्मक निकला तो मजदूरों की हड़ताल खत्म होगी। अगर परिणाम सकारात्मक नहीं रहे तो मांगें पूरी होने तक हड़ताल जारी रहेगी।

Enable referrer and click cookie to search for pro webber