चोरी के वाहन पर करते थे शान से सवारी

तीन शातिर वाहन चोर चढ़े पुलिस के हत्थे
जबलपुर। बाइक चोरी करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए ओमती पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने बताया कि वे शहर के भीड़भाड़ वाले इलाकों में खड़ी बाइक का लॉक तोड़कर पहले उसे डायरेक्ट स्टार्ट करते थे, फिर शहर में शान से घूमते थे। जब पेट्रोल खत्म होने के करीब आता तो बाइक को अपने घर में छिपा देते थे। कुछ दिन बाद चोरी की बाइक को गांवों में ले जाकर अपनी परेशानी का हवाला देते हुए 5 हजार रुपए में गिरवी रख देते थे। इसके बाद पलटकर कभी बाइक की ओर नहीं देखते थे। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर चोरी की 6 बाइक बरामद की है। पुलिस गिरवी रखी गई अन्य बाइक के बारे में जानकारी जुटा रही है।
चोरी की मोपेड में घूमता मिला एक आरोपित तो हो गया खुलासा
एएसपी शहर दीपक शुक्ला, एएसपी क्राइम शिवेश सिंह बघेल ने बताया कि सोमवार रात क्राइम ब्रांच को सूचना मिली कि एक युवक पॉलीटेक्निक कॉलेज के पास चोरी की मोपेड से घूम रहा है। सूचना पर सीएसपी ओमती शशिकांत शुक्ला और टीआई नीरज वर्मा के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच और थाना पुलिस की टीम गठित की गई। टीम ने घेराबंदी कर आरोपित को पकड़ा तो उसने अपना नाम घमापुर पाटबाबा निवासी राजू थापा (25) बताया। आरोपित से वाहन के दस्तावेज मांगे गए, तो उसने नहीं होने की जानकारी दी। साथ ही बताया कि उसने अपने साथी मदार टेकरी निवासी मो.वसीम खान के साथ दो बाइक चुराई है। जिस पर वसीम के घर में दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके घर से चोरी की 2 बाइक भी बरामद की गई।
गिरोह मे तीन सदस्य
आरोपित वसीम ने बताया कि उसने अपने साथी गाजीनगर निवासी अनवर अली और मदार टेकरी निवासी मो.अख्तर के साथ मिलकर कोतवाली, लार्डगंज, माढ़ोताल से 4 बाइक चुराई है। आरोपित अनवर और मो. अख्तर को गिरफ्तार किया गया, तो उनके पास से भी चोरी की 4 बाइक बरामद की गई।
टीम को इनाम देने की घोषणा
आरोपितों को गिरफ्तार करने वाले क्राइम ब्रांच के प्रधान आरक्षक धनंजय सिंह, विजय, वीरेन्द्र, आरक्षक ज्ञानेन्द्र पाठक, सादिक, जितेन्द्र दुबे, अश्वनी द्विवेदी आदि को एसपी अमित सिंह ने इनाम देने की घोषणा की है।
…………………………………………………………