नेता प्रतिपक्ष के लिए जबलपुर से भी नेता सक्रिय

जबलपुर।
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नेता प्रतिपक्ष का पद लेने से इंकार कर दिया है। जबलपुर को तवज्जो मिली तो विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के पद पर पाटन विधायक आ सकते हैं। तय विधायक दल और संगठन को करना है फिर भी प्रदेश के दूसरे नेताओं की तरह अजय विश्नोई के समर्थकों ने लॉबिंग शुरू कर दी है। कांग्रेस सरकार के वंदे मातरम्? गायन पर रोक के खिलाफ रविवार को विश्नोई ब?ा प्रदर्शन करेंगे। समर्थक इसे नेता प्रतिपक्ष के लिए खुद की दावेदारी से जो?कर देख रहे हैं।
अजय विश्नोई है दावेदार
पाटन से बड़ ी जीत हासिल करके विधायक बने
तीन बार के विधायक हैं। पूर्व कैबिनेट मंत्री भी रहे हैं।
– सरकार और प्रशासनिक पकड़ मजबूत है
विधायक नरोत्तम मिश्रा को नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में आगे बताया जा रहा है। इसके अलावा गोपाल भार्गव और भूपेन्द्र सिंह का नाम भी चल रहा है। इधर, जबलपुर से नेता प्रतिपक्ष के लिए अजय विश्नोई के नाम को लेकर कई नेताओं की ओर से लॉबिंग की जा रही है।
सोशल मीडिया में भी चला नाम-
पिछले दिनों सोशल मीडिया में भी विश्नोई समर्थकों ने उनके नाम को नेता प्रतिपक्ष के तौर पर पेश किया। जनता से भी इस संबंध में राय मांगी गई।
वंदेमातरम पर रोक लगाने के सरकारी आदेश के खिलाफ अजय विश्नोई का वंदे मातरम गायन 6 जनवरी को होगा। दोपहर 12 बजे शहीद स्मारक से गायन करते हुए टाउनहाल तक जाएंगे। इसमें विश्नोई और उनके समर्थकों के साथ आम लोग भी जुड़ेंगे। अधिवक्ता मनीष मिश्रा ने बताया कि ये कार्यक्रम गैर राजनैतिक होगा। अजय विश्नोई ने कहा कि वंदे मातरम गरम दल की पहचान था। आज कांग्रेस अपने पूर्वज नेताओं को ही नकार रही है। देश पर शहीद होने वालों को उचित सम्मान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि वो अकेले चलेंगे। उनके साथ जनता खुद जुड़ जाएगी।