गिरते पारे ने बढ़ाई किसानों की परेशानी

मटर, मसूर, बटरी, चना, राहर की फसलों में दिख रहा असर
जबलपुर प्रतिनिधि। शुक्रवार की रात फसलों पर भी पड़ी। गिरते पारे ने जबलपुर शहर के आसपास के क्षेत्रों के किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया। शहपुरा, पाटन, बरगी और बेलखेड़ा क्षेत्र में दलहन की फसल पाले में खराब हो गईं। क्षेत्र में मटर, मसूर, बटरी, चना, राहर की फसलों में सबसे अधिक असर हुआ है। गिरते पारे का सबसे ज्यादा असर मटर पर देखने मिला। पाले के कारण दागी मटर का दाम मंडी में कम हो गया। आने वाले दो दिनों में इसका और अधिक असर दिखेगा।
मटर में लगा पाला, मंडी में गिरे दाम
हाड़ जमा देने वाली ठंड ने मटर को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा है। इसका असर शनिवार को सहजपुर मंडी में देखने मिला। मटर रोज की तरह आवक रही पर उसमें ज्यादातर मटर पाला लगने से दागी हो गया था। इस वजह से सामान्य मटर 15 से 17 रुपए अधिकतम बीका तो दागी मटर सीटेन मटर 11 से 14 रुपए अधिकतम बीका है।
बेलखेड़ा क्षेत्र में जमकर हुआ नुकसान
बेलखेड़ा क्षेत्र के दर्जनों गांवों में पाला लगने से मटर, चना, राहर की फसलों में भारी नुकसान है। बेलखेड़ा, सिंगपुर, रजौला, मेरेगांव, झालौन, जमखार, मैली, बमौरी, इमलिया, कूड़ा, बिजौरा, सुंदरादेही सहित अन्य गांवों में फसलों को नुकसान हुआ है। यहां के किसानों का कहना है कि 13 एकड़ के मटर में पाला लगने खराब हो गया। किसानों ने शासन प्रशासन से फसलों का निरीक्षण कर मुआवजा की मांग की है