महिला ने बना लिया था भय्यूजी का अश्लील वीडियो, ब्लैकमेलिंग में खास सेवादार थे शामिल !

इंदौर,। संत भय्यू महाराज को ब्लैकमेल करने वाले गिरोह की छानबीन शुरू हो चुकी है। इस मामले में फूटी कोठी स्थित उस युवती के मोबाइल की जांच की जा रही है, जो 40 करोड़ कैश, कार और फ्लैट की मांग कर रही थी। साथ ही लापता सेवादार विनायक व शेखर की तलाश भी की जा रही है।

पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार कैलाश पाटिल उर्फ भाऊ (ड्राइवर) ने बताया कि महाराज की मौत सामान्य आत्महत्या नहीं, बल्कि उन्हें गोली मारने के लिए मजबूर किया गया था। इसमें मुख्य किरदार फूटी कोठी क्षेत्र में रहने वाली युवती थी, जो महाराज की देखभाल करने के लिए लगी थी। उसने महाराज से प्रेम संबंध स्थापित कर अश्लील वीडियो बना लिया था। डॉ. आयुषी से शादी के बाद इस लड़की का

आना-जाना बंद हो गया। उसने वीडियो सार्वजनिक करने की धमकी दी और महाराज से हर महीने डेढ़ लाख रुपये लेने शुरू कर दिए।
ब्लैकमेलिंग में खास सेवादार विनायक दुधाले और शेखर भी शामिल थे। विनायक ही लड़की को रुपये देने जाता था। कई बार उसके फोन से ही बातचीत होती थी। पुलिस विनायक और शेखर की तलाश में जुट गई है। जानकारी मिली है कि वह महाराष्ट्र में छुपा है और उसने एक क्रिश्चियन युवती से शादी कर ली है। जांच में शामिल एक अधिकारी के मुताबिक, ब्लैकमेल करने वाली लड़की के गोपनीय नंबर मिले हैं। उसकी कॉल डिटेल निकाली जा रही है।

विनायक महाराज का खास राजदार बन चुका था। वह बात-बात पर इमोशनल ब्लैकमेल करने लगा था। कैलाश ने कहा कि महाराज और डॉ.आयुषी एक बार घर में क्रिकेट मैच देख रहे थे। अचानक विनायक दाखिल हो गया। डॉ.आयुषी ने आने का कारण पूछा तो नाराज होकर चला गया। महाराज उसे मनाने के लिए दौड़े और बेडरूम में लेकर आए। विनायक को लाने ले जाने के लिए भी गाड़ी लगा रखी थी।

शनिवार को डीआइजी हरिनारायणचारी मिश्र ने ड्राइवर कैलाश से पूछताछ की। उसने कहा कि 11 जून को महाराज बेटी कुहू से मिलने पुणे जा रहे थे। रास्ते में लड़की के फोन आ रहे थे। करीब 10 बार बातचीत हुई। सभी को गाड़ी से उतारा और महाराज ने लड़की से बात की। इसके बाद वो तनाव में आ गए और सेंधवा से लौट आए। दरअसल लड़की ने अल्टीमेटम दिया था।

बेटी बोली- मुझे पता है क्या चल रहा है, वक्त आने पर दूंगी जवाब

मध्य प्रदेश के इंदौर में भय्यू महाराज की मौत के छह महीने बाद हो रहे खुलासों पर उनकी बेटी कुहू का बड़ा बयान सामने आया है। कुहू ने कहा है कि वक्त आने पर मुझसे जुड़े हर सवालों का जवाब दूंगी। मुझे पता है यहां क्या चल रहा है। पुणे में मेरे सेमेस्टर एग्जाम चल रहे थे, मैं उसकी तैयारी में लगी हुई थी। मैं अपनी नानी के साथ हूं। आश्रम, ट्रस्ट और बाबा से जुड़े लोग अलग-अलग बातें कर रहे हैं। मीडिया में जो बातें आ रहीं, उनकी क्लिपिंग मेरे पास है।