जीत का जश्न :पुलिस के माथे पर शिकन

जबलपुर,मुनप्र्र। विधानसभा चुनाव की मतगणना 11 दिसंबर को होना है। दोपहर तक मतगणना के नतीजे सामने आ जाएंगे और इसके साथ ही विजयी प्रत्याशियों के समर्थक जश्न में डूब जाएंगे। ढोल ढमाके, आतिशबाजी और विजय जुलूस का सिलसिला शुरू हो जाएगा। चुनाव नतीजों की घोषणा के बाद विजय जुलूसों के दौरान के कहीं किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति न बने, इसे लेकर प्रशासन चौकस नजर आ है। खबर है कि पुलिस प्रशासन को मतगणना स्थल से लेकर विजय जुलूसों तक सुरक्षा के कड़े इंतजाम करने के निर्देश पुलिस मुख्यालय से दिए गए हैं। फिर भी उसके माथे पर चिंता की लकीरें देखीं जा रही हैं। जिले की आठो सीटों की मतगणना इस बार भी एमएलबी स्कूल में होना है। मतगणना स्थल पर सारा कार्य शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो, इसके लिए व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। प्रत्याशियों के गणना एजेंटों को मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए पास जारी कर दिए गए हैं तथा उन्हें मतगणना प्रारंभ होने के 2 घंटे पहले सुबह 6 बजे मतगणना स्थल पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं। प्रशासन को इस बात का अंदाजा है कि मतगणना स्थल के बाहर भी प्रत्याशियों के समर्थकों और राजनैतिक दलों के कार्यकत्र्ताओं की भारी भीड़ होगी। जीत की उम्मीद लगाए कई समर्थक बैंडबाजों और आतिशबाजी के साथ पहुंचेंगे। सभी में मतगणना के चक्रवार परिणाम जानने की उत्सुकता होगी। जिला प्रशासन द्वारा लाऊड स्पीकर पर मतगणना स्थल के बाहर भी परिणामों की घोषणा की व्यवस्था की गई है, साथ ही मंडी परिसर से लेकर पन्ना मोड़ तक पूरे क्षेत्र में पुलिस बल की तैनाती की जा रही है। जीत-हार के बाद खुशी और मातम के माहौल में उत्साही कार्यकर्ता कोई गड़बड़ी न कर बैठे, इसे देखते हुए मतगणना स्थल के बाहर भी सशस्त्र जवानों की तैनाती की जा रही है। इधर चुनावी नतीजों को जानने की उत्सुकता अब प्रत्याशियों के साथ-साथ उनके समर्थकों को भी बेचैन कर रही। जीत के दावों के साथ जोश से भरे कार्यकत्र्ता अब अपनी मेहनत का परिणाम जानने को बेताब हैं।