Advertisements

अस्‍पताल के एचआर ने किया इंकार तो युवती ने दे दी जान

जबलपुर। विजय नगर की रामेश्वर कॉलोनी में किराए से रहने वाली मेडिसिटी अस्पताल की मार्केटिंग वर्कर बैतूल निवासी शिवानी सेन (24) ने प्रेमी के शादी से इंकार करने से दुखी होकर फांसी लगाई थी। इस बात को लेकर उसका प्रेमी से विवाद भी हुआ था। जिसके बाद से वह डिप्रेशन में थी। यह खुलासा विजय नगर पुलिस द्वारा अब तक की गई जांच में हुआ है। शिवानी ने खुदकुशी से पहले एक सुसाइड नोट लिखा था। इसमें उसने अपने प्रेमी अस्पताल के एचआर अतुल मिश्रा को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए उसे कड़ी सजा दिलाने की बात लिखी थी। शिवानी के परिजन का बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

रामेश्वर कॉलोनी निवासी अतुल जैन के घर में 6 महीने से बैतूल निवासी शिवानी सेन किराए से रह रही थी। वह आगा चौक स्थित मेडिसिटी अस्पताल में मार्केटिंग वर्कर थी। मंगलवार की सुबह वह काफी देर तक कमरे से बाहर नहीं आई तो अतुल जैन चेक करने कमरे में पहुंचे। उन्होंने कई बार शिवानी को आवाज लगाई, लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। जिस पर अतुल ने खिड़की से कमरे में झांका तो शिवानी दुपट्टे के फंदे से फांसी पर लटकी दिखी। सूचना पर विजय नगर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पीएम के लिए भेजते हुए जांच शुरू की थी।

परिजन ने माना सुसाइड नोट में शिवानी की ही हैंडराइटिंग
जांच के दौरान मृतका के शव के पास एक डायरी मिली थी। जिसमें शिवानी ने सुसाइड नोट लिखा था। डायरी के अन्य पन्नों और सुसाइड नोट की लिखावट में कुछ अंतर होने के कारण पुलिस मामले को संदिग्ध मान रही थी। लेकिन बैतूल से शहर पहुंचे शिवानी के परिजन ने सुसाइड नोट की राइटिंग शिवानी की ही बताई। परिजन ने आरोप लगाया कि अतुल मिश्रा ने शिवानी को आत्महत्या के लिए मजबूर किया है। बदनामी के डर से उसने यह कदम उठाया है।

बातचीत के दौरान शिवानी से की थी मारपीट
आरोपित अतुल मिश्रा (24) सीधी जिले के रामपुर का रहने वाला है। वह कचनार सिटी में रहता है। आरोपित को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई, तो उसने बताया कि सोमवार की रात शिवानी उसके घर आई थी और शादी करने के लिए कह रही थी। लेकिन उसने इंकार कर दिया। इस बात से वह नाराज होकर उससे विवाद करने लगी। इसके बाद दोनों में झूमाझपटी हुई और फिर शिवानी रोते हुए घर चली गई थी।

Loading...