2.5 लाख देकर बन रहे थे सब इंस्पेक्टर

नहीं पकड़ी गई प्रीति पटेल नाम की ठग
जबलपुर, नगर प्रतिनिधि । सब इंस्पेक्टर बनने की चाहत में बेरोजगार युवक ने 2 लाख 85 हजार रुपए गवां दिए। बिचौलिए की भूमिका निभा रही महिला के कहने पर युवक ने नेट बैंकिंग से अलग-अलग किश्तों में यह रकम भोपाल स्थित बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किए थे। 2016-17 में हुई शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने भोपाल व पाटन निवासी दो महिलाओं के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है। जांच अधिकारी एसआई अर्चना सैय्याम ने बताया कि 19 सितंबर 2016 को पाटन निवासी अभिषेक साहू के पास भोपाल से अज्ञात महिला का फोन आया। महिला ने कहा कि वह एक एजेंसी चलाती है जिसके जरिए किसी भी विभाग में सरकारी नौकरी लगवा देती है। अभिषेक ने कहा कि वह सब इंस्पेक्टर बनना चाहता है। दोनों के बीच चार लाख रुपए में एसआई की नौकरी का सौदा तय हो गया।जांच अधिकारी ने बताया कि पाटन निवासी प्रीति पटेल नामक युवती ने मध्यस्थ की भूमिका निभाई थी। भोपाल से फोन आने के बाद उसने अभिषेक को बताया कि वह उस एजेंसी को जानती है। पैसे लेकर एजेंसी की मालकिन भोपाल निवासी नजमा बी नौकरी लगवा देती हैं। इससे अभिषेक व उसके घरवालों का विश्वास पक्का हो गया।भोपाल के एक बैंक में नजमा बी के खाते में 2.85 लाख रुपए ट्रांसफर करने के बाद अभिषेक व उसके घरवाले प्रीति पटेल के चक्कर लगाने लगे। इसी बीच भोपाल की नजमा बी ने उनसे बातचीत करना बंद कर दिया। प्रीति भी घर से गायब रहने लगी। परिजन को गड़बड़ी की आशंका हुई और शिकायत दर्ज कराई। एसआई सैय्याम का कहना है कि जांच के लिए पुलिस टीम भोपाल जाएगी।