Advertisements

रीवा कलेक्टर के गोली मारने के फरमान पर बढ़ सकती है मुश्किलें, EC ने मंगाई रिपोर्ट

भोपाल। रीवा जिले की कलेक्टर प्रीति मैथिल नायक की मुश्किलें बढ़ सकती है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने इस मामले में रिपोर्ट तलब की है. कलेक्टर ने स्ट्रांग रूम के बाहर किसी के दिखाई देने पर गोली मारने का आदेश दिया था जिसका वीडियो वायरल होने पर बवाल मच गया था. (यहां देखें वीडियो- रीवा कलेक्टर का फरमान, ‘EVM के पास कोई आए तो मार देना गोली’)

कलेक्टर ने अपने सुरक्षाकर्मियों से कहा कि EVM के पास कोई आए तो गोली मार देना. इतना ही नहीं कलेक्टर प्रीति मैथिल नायक ने कहा कि ये चुनाव मेरे लिए मामूली है, इस फिजूल के चक्कर में 25 साल की साख ख़राब नहीं करूंगी. मुझे आगे प्रिंसिपल सेकेट्री चीफ सेकेट्री बनना है. निर्वाचन ये मेरे लिए कुछ नहीं है.’

दरअसल, रीवा में कांग्रेस प्रत्याशी ने स्ट्रांग रूम में EVM की सुरक्षा पर आपत्ति दर्ज कराई थी. इसी को लेकर कलेक्टर प्रीति मैथिल नायक ने कांग्रेस प्रत्याशी के साथ चर्चा के दौरान ये सब बातें कही. इस दौरान कलेक्टर परिसर का निरीक्षण करती भी दिखाई दे रही थीं.

बता दें कि एमपी में चुनाव के बाद EVM मशीनों को लेकर बवाल मचा हुआ है. जिसमें सागर के नायब तहसीलदार राजेश मेहरा को लापरवाही के आरोप के चलते निलंबित कर दिया गया है. वहीं कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदेश के कई जिलों में स्ट्रांग रूम के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं.

Loading...