ठंड बढ़ते ही बढ़ी चोरी की घटनाएं

पुलिस गश्त पर उठ रहे सवाल
जबलपुर, मुनप्र। पारे में आ रही गिरावट और ठंड के बढऩे के साथ ही शहर और आसपास के ग्रामीण इलाकों में चोरी की घटनाओं में इजाफा होने लगा है। आये दिन चोरी की घटनाएं सामने आ रही हैं। सोमवार को ही गोराबाजार थाना क्षेत्र स्थित रिज रोड आर्मी एरिया में चोरों ने एक कैप्टन और लेफ्टिनेंट कर्नल के घरों पर धावा बोलकर बाइक कैमरा, मोबाइल और अन्य कीमती सामान पार कर दिया शनिवार की रात हुई इस घटना की शिकायत कैन्टन ने रविवार को पुलिस में दर्ज करयी। पुलिस ने बताया कि रिज रोड स्थित विनय राव चौहान एन्क्लेव के पाटन में रहने वाले सेना में कैप्टन जार्ज मसीह बाबा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करायी है कि शनिवार को उन्होंने अपने क्वार्टर के नीचे बने गैरिज में बाइक क्रमांक एम एच 15 बीजी 3814 खड़ी की थी लेकिन रविवार सुबह आठ बजे वे गैरिज में पहुंचे तो बाइक गायब थी। उन्होंने बताया कि इसदौरान उन्हें पता चला कि उनके क्र्वाटर के पीछे रहने वाले लैफ्टिनेंट कर्नल दिनेश कनौजिया के घर में भी चोरी हुई है वे वहां पहुंचे तो दिनेश कनौजिया ने बताया कि शनिवार की रात आठ बजे वे लोग क्वार्टर में ताला लगाकर किसी रिश्तेदार के घर चले गए थे जहां रात रुकने के बाद वे लोग रविवार की सुबह घर पहुंचे तो घर का ताला तोड़कर टूटा हुआ था तथा अंदर गुल्लक से दो हजार रुपए एक सोनी कंपनी का कैमरा, एटीएम कार्ड और मोबाइल फोन सहित अन्य चीजें गायब थीं। चोरी की एक और घटना गढ़ा थानांतर्गत आरती अपार्टमेंट के एक फ्लैट में रहने वाले जागेश्वर तिवारी के बंद पड़े फ्लैट का कुंदा तोड़कर अज्ञात चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया। चोरी की शिकायत आज सुबह जागेश्वर तिवारी के दामाद शास्त्री नगर निवासी नीरज शुक्ला ने गढ़ा पुलिस में की । सूचना मिलने पर गढ़ा पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल प्रारंभ की। पुलिस के अनुसार जागेश्वर तिवारी सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हो चुके थे और ज्यादातर सतना में रहते थे। महिने में एक दो बार वे जबलपुर आते थे और आरती अपार्टमेंंट में रुकते थे। उन्हें चोरी की घटना की जानकारी दे दी गई है। चोर क्या-क्या चुराकर ले गए हैं यह तो उनके आने के बाद ही स्पष्टï हो सकेगा। बहरहाल पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है। खमरिया थाना क्षेत्र में भी चोरी की एक वारदात सामने आयी है। एक के बाद एक चोरी की घटनाओं से लोगों में असुरक्षा की भावना बढ़ी है वहीं पुलिस की रात्रि गश्त पर भी सवालिया निशान लग रहे हैं। ठंड का पूरा फायदा चोर उच्चके उठाने लगे हैं। ऐसे में पुलिस गश्त तेज करने की आवश्यकता पर जोर देना जरूरी हो गया है।